मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी, सात जिले होंगे प्रभावित

    0
    20
    देहरादून, एक बार फिर मौसम विभाग ने राज्य के पहाड़ी जिलों के लिए भारी अलर्ट जारी किया है। मंगलवार को मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि, “प्रदेश के सात जिलों में भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। मौसम के इस मिजाज को देखते हुए प्रशासन को भीचुस्त-दुरुस्त रहना चाहिए।”
    राजधानी देहरादून सहित आसपास के इलाकों में सुबह से तिखी धूप निकली  लेकिन दोपहर में झमाझम बारिश हुई जो रूक-रूक कर जारी है। वहीं पर्वतीय क्षेत्रों में जगह-जगह बारिश होने से पहाड़ी मार्गो पर लगातार मलवा आने से यातायात पर असर पड़ रहा है।
    मौसम विभाग की इस भविष्यवाणी को देखते हुए सरकार की ओर से सभी जिलाधिकारियों को अतिरिक्त सावधानी बरतने  की सलाह दी गई है। उनसे कहा गया है कि नदियों, नालों, खालों के पास रहने वाले लोगों पर सघन निगरानी रखी जाए और इन स्थानों से दूरी बनाई जाए ताकि किसी प्रकार की अनहोनी न हो।
    प्रशासन की ओर से इस चेतावनी को देखते हुए चमोली, उत्तरकाशी तथा ऋषिकेश व हरिद्वार में नदियों के किनारे बसी बस्तियों तथा जर जर भवनों को खाली करा लिया गया है। मौसम विभाग द्वारा जारी किये गये औरेंज अलर्ट के मद्देनजर राज्य आपदा प्रबंधन की टीमों व आईटीबीपी तथा स्वंय सेवक समूहों को सर्तक कर दिया गया है। पहाड़ो पर हो रही लगातार बारिश के कारण राज्य की सभी प्रमुख नदियों के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है जिससे मैदानी इलाकों में बाढ का खतरा बढ़ गया है।
    मौसम विभाग का कहना है कि, “आगामी चार दिनों में सूबे की राजधानी सहित राज्य के सात जनपदों में भारी से भारी बारिश होने की संभावनाएं है। इन जनपदों में हरिद्वार, पौड़ी, चमोली, चम्पावत व  पिथौरागढ़ तथा उत्तरकाशी जिले शामिल है। राज्य के अन्य जनपदों में भी इस दौरान कही अधिक तो कहीं कम बारिश होने की संभावना जतायी गयी है। शासन द्वारा राज्य के स्कूलों में इस दौरान अवकाश रखने के निर्देश दिये गये है तथा अवश्यक न होने पर पहाड़ यात्रा पर न जाने  की सलाह दी गयी है।”