स्पर्श गंगा टीम के सदस्यों ने निकाले गंगा से मृत जीव

0
380

हरिद्वार। स्पर्श गंगा टीम की विभिन्न टीमों ने साप्ताहिक रूप से गंगा घाटों पर सफाई अभियान चलाया। स्पर्श गंगा टीम लगातार हरिद्वार एवं आस पास के गंगा घाटों एवं तटों पर मैले कुचेले पदार्थो एवं मृत जीव, प्लास्टिक, पाॅलीथीन पन्नियां निकालकर एकत्र कर नगर निगम के कर्मचारियों को इसकी सूचना देती चली आ रही है।

रविवार को इसी क्रम में जगजीतपुर स्पर्श गंगा घाट पर बड़े पैमाने पर मृत जीवों के अवशेष मिलने से स्पर्श गंगा टीम के सदस्य काफी आहत है लगातार मृत जीव के अवशेष मिलने की शिकायतें जिला प्रशासन को की जा रही है। अपने हाथों से स्वयं जगजीपुर टीम के सदस्य मनप्रीत एवं मोहित के नेतृत्व में मृत जीवों को गंगा से निकालने का काम कर रहे हैं। स्पर्श गंगा के उत्तराखण्ड के संयोजक शिखर पालीवाल ने कहा कि हरिद्वार में मुनिश्वर घाट, स्पर्श गंगा घाट, ऋषिकुल, प्रेमनगर आश्रम घाट, विश्वकर्मा घाट, सलेमपुर, अवधूत मंडल, पायलट बाबा घाट, गाजीवाला समेत ऋषिकेश देहरादून और उत्तर प्रदेश के भी कई स्थानों पर रविवार को टीम के सदस्यों द्वारा सफाई अभियान चलाया गया। निरन्तर यह अभियान बड़ा रूप लेता जा रहा है। स्पर्श गंगा टीम की कार्यशैली से प्रभावित होकर कई ओर संगंठन भी गंगा को प्रदूषण मुक्ति में जुड़े रहे है। शिखर पालीवाल ने कहा कि मृत जीवों के गंगा में अवशेष मिलना दुर्भाग्यपूर्ण है शासन प्रशासन को इस ओर कड़ाई से कार्यवाही करनी चाहिये मृत जीवों के अवशेष आस्था को ठेस पहुंचा रहे हैं। टीम के सदस्य सेवाभाव से गंगा को प्रदूषण मुक्त करने में जुटे हुए है। सदस्य किसी भी रूप से गंगा को प्रदूषणम मुक्ति की इस योजना से पीछे नहीं हट रहे है। महिलाएं जिसमें विमला, रीता चमोली, पूनम चैहान, मन्नू रावत, चन्द्रकला, लक्ष्मी सक्रिय रूप से साप्ताहिक गंगा सफाई अभियान में अपनी टीमें बनाकर सेवाभाव से हरिद्वार एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सफाई अभियान चला रही हैं। स्पर्श गंगा टीम के सदस्यों ने विभिन्न घाटों पर वृहद स्तर से स्वच्छता अभियान चलाकर स्वच्छ भारत अभियान को बल दिया। इस अवसर पर सीमा चैहान, वेनू त्यागी, मनप्रीत कश्यप, मोहित, जोनी चैहान, विकास, रवि, अक्षय, ऋतिक, शिवम अरोड़ा, कमल सहगल, संजय, आदि उपस्थित रहे।