कुंभ मेले को सम्पन्न कराने में संतों का मिलेगा पूर्ण सहयोग : गिरि

0
383
saint,akhada haridwar

हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीमहंत नरेन्द्र गिरि महाराज ने श्रीजूना अखाड़ा पहुंचकर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय श्रीमहंत हरिगिरि महाराज से 2019 के प्रयाग में होने वाला अर्द्धकुंभ और 2021 के हरिद्वार में होने वाले महाकुंभ मेले को लेकर विचार-विमर्श किया। उन्होंने 16 मार्च को प्रयाग में होने वाली परिषद की बैठक में फर्जी बाबाओं के खिलाफ शिंकजा कसने के लिए वार्तालाप किया। परिषद की बैठक के लिए आह्वान करते हुए कहा कि सभी अखाड़ों के संत 16 मार्च की होने वाली अखाड़ा परिषद की बैठक में अधिक से अधिक से भाग लें ताकि देश में फर्जी बाबाओं के खिलाफ सख्त कार्यवाही करके उन्हें हटाया जा सके। जो धर्म के नाम का उपहास उड़ाकर संतों के नाम को बदनाम कर रहे हैं। नरेन्द्र गिरि ने कहा कि अब राममंदिर को लेकर देश के संत-समाज को एकजुट होना होगा। तभी 2019 में श्रीराम लला मंदिर का निर्माण संभव होगा। सभी धर्माचार्यों से विचार-विमर्श करके और कोर्ट का फैसला आने के बाद मंदिर निर्माण की तिथि घोषित की जा सकती है। मंदिर मसले को लेकर सभी धर्मगुरु चिन्तित हैं और विश्व हिन्दू परिषद व कई हिन्दू संगठन राम मंदिर निर्माण को लेकर काफी चिन्तित हैं। आशा है कि 2019 में अर्द्धकुंभ मेले के दौरान प्रयागराज में सभी संत महापुरुषों के सानिध्य में श्रीराम लला के मंदिर की निर्माण की तिथि तय हो सकती है। उन्होंने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के निर्णय का सम्मान करेंगे। करोड़ों हिन्दुओं की आस्था को देखते हुए फैसला राम मंदिर के निर्माण के हक में लेंगे। श्रीमहंत हरि गिरि महाराज ने कहा कि अर्द्धकुंभ और महाकुंभ मेला संत महापुरुषों के आशीर्वाद से सकुशल सम्पन्न होंगे। हमें यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से पूरी उम्मीद है कि वह कुंभ महापर्वों पर हमें अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करेंगें।