सरकार गैरसैंण राजधानी बनाने को लेकर प्रयासरत: विस अध्यक्ष

0
540

श्रीनगर। विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखंड की राजधानी गैरसैंण बनाने के लिए सरकार अपने स्तर से कार्य कर रही है। खुद सीएम भी क्षेत्र के विकास के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। अभी सरकार को एक साल होने वाला है, उस दौरान ही गैरसैंण में सत्र आयोजित कर सरकार ने ऐतिहासिक कार्य किया है।

श्रीनगर पुस्तक मेले में पहुंचे विस अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ने कहा कि गैरसैंण को स्थाई राजधानी का प्रस्ताव पारित करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सरकार पहले गैरसैंण का विकास करेगी, उसके बाद सरकार उक्त मामले में फैसला लेगी। उन्होंने कहा कि शराबबंदी का फैसला पहले जनता ले, शराब के उपयोग से आज कई तरह के अपराध हो रहे हैं। इसके लिए जनता को पहले खुद शराबबंदी का फैसला लेना चाहिए।
प्रदेश में सहारानपुर को मिलाने के सीएम के बयान पर विस अध्यक्ष ने कहा कि सीएम के बयान तो तोड़-मोड़ कर जनता के सम्मुख पेश किया गया है। उन्होंने श्रीनगर में पुस्तक मेला आयोजित कराने तथा गांवों में पुस्तकालय खोले जाने के फैसले का उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत को मंच से जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि विस अध्यक्ष के कोटे से वह टॉपर छात्रों को सम्मानित करने के लिए बजट देंगे। उच्च शिक्षा मंत्री को 40 से जगह 80 छात्र-छात्राओं को सम्मानित करने की बात कही। उच्च शिक्षा मंत्री ने टॉपर छात्र-छात्राओं को पांच हजार की धनराशि देकर सम्मानित किये जाने की बात कही। इस मौके पर एनआईटी के निदेशक डॉ.एसएल सोनी, एसडीएम मायादत्त जोशी, डॉ. सुशील चन्द्र सती, डॉ.प्रवीन जोशी, डॉ.रचना नौटियाल, डॉ. कविता काला, राकेश ध्यानी, अतर सिंह असवाल, लखपत भंडारी, अनूप बहुगुणा, पंकज सती आदि मौजूद थे।