उत्तराखंड में मौसम विभाग ने जारी किया अगले 48 घंटे का अलर्ट

0
51
देहरादून,  उत्तराखंड में अगले 48 घंटे में मौसम विभाग की ओर से राज्य के सात जिलों में तीव्र बौछार के साथ भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है, इसके अलावा प्रदेश के अन्य इलाकों में बारिश की संभावना है। वहीं पिछले दिनों हुई बारिश ने लोगों पर कहर बनकर टूटा था जिससे लोगों के मन में भय बना हुआ है।
रविवार को मौसम विभाग की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया कि विशेषकर राजधानी देहरादून, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल, चमोली, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग तथा पिथौरागढ़ में अगले 48 घंटों के दौरान कई चमक और तेज बौछारें के साथ भारी बारिश होने की संभावना हैं जबकि हरिद्वार, अल्मोड़ा, बागेश्वर, चंपावत, पिथौरागढ़ और ऊधमसिंह नगर में भी बारिश के आसार है।
13 और 14 अगस्त को देहरादून, बागेश्वर, पौड़ी, नैनीताल, चमोली, उत्तरकाशी और रुद्रप्रयाग तथा पिथौरागढ़ में बारिश को लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। इस दौरान बारिश के साथ मैदानी और पर्वतीय इलाकों में भूस्खलन की संभावना बन सकती है। इसलिए प्रदेश के अधिकारियां से एहतिहात बरतने की सलाह दी गई है। खास तौर पर पर्यटकों व यात्रियों के साथ अभी से समन्वय बनाने पर जोर दिया गया है। जबकि 15 को चमोली, नैनीताल, पौड़ी जिलों में कही-कही विशेषकर तीव्र बौछारों के साथ बारिश के आसार बन रहे है।
रविवार को राजधनी दून में मौसम में उसम देखने को मिली, जबकि सुबह से दोपहर तक ज्यादातत क्षेत्रों में बादल छाये रहे। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि अगले पांच दिनों तक प्रदेश के अन्य हित्सों के साथ देहरादून में ज्यादातर क्षेत्रों में बादल छाये रहेंगे। दिन में दो से तीन दौर की तेज बौछारें पड़ सकती हैं। इस दौरान चमक और गरज के साथ कई इलाकों में तेज बारिश भी हो सकती है।
ऋषिकेश-केदारनाथ राष्ट्रीय मार्ग बाधित 
ऋषिकेश-केदारनाथ राष्ट्रीय मार्ग पर (एनएच 107) पर मलबा आने से मार्ग बाधित है, जबकि सोनप्रयाग-केदारनाथ मार्ग पैदल यात्रियों के लिए चालू है। रूद्रप्रयाग जिले में कुल 32 ग्रामीण मोटर मार्ग बंद है जिसे खोलने का कार्य जारी है। देहरादून में कुल 10 मोटर मार्ग बंद है, बागेश्वर में चार और पिथौरागढ़ में तावाघाट- राष्ट्रीय राजमार्ग सहित कुल आठ सड़क मार्ग बाधित है। ऋषिकेश राष्ट्रीय बदरीनाथ-राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच 58) बदरीनाथ तक यात्रियों के लिए खुला है, जबकि चमोली  जिले में 19 मोटर मार्ग बंद पड़े हैं। उत्तरकाशी में ऋषिकेश-गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग, (एनएच 108) गंगोत्री और ऋषिकेश-यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग, (एनएच 94) जानकीचटृी तक छोटे बड़े वाहनों के लिए खुले हुए है। जबकि आठ ग्रामीण मोटर मार्ग बंद पड़े है जिसे खोलने कार्य गतिमान है।