उत्तराखण्ड पुलिस की शालू ने बढ़ाया देश का मान

0
28

उत्तराखंड पुलिस की महिला मुख्य आरक्षी शालू चौधरी ने काॅमनवैल्थ जूडो चैम्पियनशिप-2019 में शानदार प्रदर्शन करते हुए देश, प्रदेश और उत्तराखण्ड पुलिस का नाम रोशन किया है। शालू ने अपनी मेहनत के बलबूते 78 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक अर्जित किया है।

इंग्लैण्ड के वालसल शहर में दिनांक 24 सितम्बर से 30 सितम्बर, 2019 तक आयोजित हुई काॅमनवैल्थ जूडो चैम्पियनशिप-2019 में उत्तराखंड पुलिस में मुख्य आरक्षी के पद पर तैनात शालू ने 78 किलोग्राम वर्ग में शानदार प्रदर्शन करते हुए कांस्य पदक अपने नाम किया है।

मंगलौर, हरिद्वार निवासी शालू जनपद देहरादून में तैनात हैं। शालू चौधरी ने वर्ष 2011 में उत्तराखण्ड पुलिस ज्वाईन कर कई प्रतियोगिताओं में पुलिस विभाग के लिए पदक अर्जित किये हैं। शालू ने वर्ष 2016-17 ऑल इंडिया पुलिस गेम्स में रजत पदक और वर्ष 2016 सीनियर नेशनल गेम्स में भी रजत पदक अपने नाम किया है। शालू चैधरी दिनांक 24 अक्टूबर से 26 अक्टूबर, 2019 तक अबू धाबी, संयुक्त अरब अमिरात में प्रस्तावित जूडो ग्रैंड स्लैम-2019 में भी प्रतिभाग करेंगी। ग्रैंड स्लैम-2019 प्रतियोगिता ओलम्पिक क्वालीफिकेशन के लिए भी महत्वपूर्ण है। प्रतियोगिता में पदक अर्जित करने पर शालू की ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई करने की सम्भावनाऐं बढ़ जांएगी।

अशोक कुमार, महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड/सचिव, उत्तराखण्ड पुलिस स्पोर्टस कंट्रोल बोर्ड ने शालू की इस उपलब्धी के लिए उन्हें शुभकामनाएं देते हुए उनकी जीत पर खुशी व्यक्त की है, कहा कि, “शालू चौधरी ने अन्तरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में पदक जीत कर देश, प्रदेश और उत्तराखण्ड पुलिस का नाम रौशन किया है। मुझे उम्मीद है आगामी प्रतियोगिताओं में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए शालू ओलम्पिक के लिए क्वलीफाई कर उत्तराखण्ड पुलिस का नाम रौशन करेगी।”