छात्र संगठनों के शक्ति प्रदर्शन में जमकर उड़ी नियमों की धज्जियां, पुलिस दिखी बेबस

0
317

कोटद्वार पीजी कॉलेज के छात्रसंघ चुनाव के शक्ति प्रदर्शनों में नियमों की जमकर धज्जियां उड़ी। हाथों में प्रिंटेड प्रचार सामग्री लेकर छात्र नेताओं के जुलूस का स्वागत पटाखों के शोर से हुआ। इसको लेकर लगायी गईं पाबंदियां कागजी साबित हुईं।कॉलेज के गेट पर जमकर आतिशबाजी हुई। हालांकि सभी संगठनों के हाथों में प्रिंटेड प्रचार सामग्री थी जो कि कॉलेज परिसर के भीतर घुसते ही जब्त कर ली गई और कई तो इसे कालेज के अंदर तक ही ले गये।

शनिवार को विभिन्न छात्र संगठनों ने शक्ति प्रदर्शन कर चुनाव प्रचार में अपना दमखम दिखाया। इस दौरान अध्यक्ष और सचिव पद के दावेदारों की रैलियों में होली.दिवाली जैसा माहौल नजर आया। कोटद्वार पीजी कॉलेज में दो दिन बाद नौ सितंबर को छात्र संघ चुनाव होना है। एबीवीपी ने मालवीय उद्यान से बद्रीनाथ मार्ग होते हुए कॉलेज तक रैली निकाली। रैली निकलने से पूर्व अभाविप के समर्थकों ने एनएच पर जाम लगाया। वहां पर मौजूद पुलिस के अधिकारी भी छात्रों के आगे बेवश नजर आये ।अभाविप की रैली में सैकड़ों रंगीन टी शर्ट संगठन के झंडे और हजारों हैंडकार्ड का प्रयोग किया गया। इतना ही नहीं कॉलेज के गेट पर जमकर आतिशबाजी की गई। मौके पर मौजूद पुलिस मूकदर्शक बनी रही। कई छात्रों का कहना था कि पुलिस सरकार के दबाव में काम र रही है।
’जय हो ने प्रदर्शन कर दिखाया दमखम’
कोटद्वार कॉलेज में जय हो ने भी पूरे दमखम के साथ शक्ति प्रदर्शन किया और अभाविप को टक्कर दी। दोनों संगठनों का परिसर में एक ही समय शक्ति प्रदर्शन होने से पुलिस प्रशासन के पसीने छूट रहे थे। कड़ी सुरक्षा के बीच दोनों संगठनों ने अलग.अलग रैली निकाली। जय हो से सभी दावेदारों को फूलमालाओं से लादा गया था। जय हो के सैकड़ों छात्र.छात्राएं संगठन की प्रिंट टी.शर्ट पहने संगठन की जीत के नारे लगाते रहे। जय हो का शक्ति प्रदर्शन करीब बारह बजे प्रारंभ हुआ। कॉलेज परिसर का एक चक्कर लगाने के बाद छात्र.छात्राओं ने पेड के नीचे एकत्र होकर जमकर नारेबाजी की। यहां भी जय हो के समर्थकों ने जमकर आतिशबाजी की और अपने उम्मीदवारों के समर्थन में नारे लगाए।
’आर्यन ने रैली निकाल मांगे वोट’
कॉलेज परिसर में आर्यन से सचिव पद की दावेदार अतुल डोबरियाल के समर्थन में छात्र.छात्राओं ने रैली निकाली व शक्ति प्रदर्शन किया। इस मौके पर अतुल डोबरियाल ने कहा कि उन्होंने कॉलेज में लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों का शत फीसद पालन करते हुए एक मात्र बैनर के साथ रैली व प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने अपनी जीत का दावा किया। डा. डीएम शर्मा मुख्य चुनाव अधिकारी का कहना है कि कॉलेज में सभी छात्र संगठनों को रैली निकालने की इजाजत दी जाती है लेकिन रैली के दौरान शांति बनाए रखने और लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों का पालन करने की भी सख्त हिदायत दी गई है।