जापान ने क्रूज़ शिप को अलग रखा, 3,700 यात्रियों की जांच जारी

0
101

टोक्यो,  जापानी अधिकारियों ने एक क्रूज़ शिप को अलग रखते हुए उसमें सवार चालक दल के सदस्यों समेत 3700 यात्रियों का जांच शुरू कर दी है, यह शिप योकोहामा के एक बंदरगाह से रवाना हुआ था। ऐसा इसलिए किया गया है क्योकि हांगकांग में  एक पूर्व यात्री में कोरोना वायरस की बीमारी का पता लगा था।

ट्विटर पर जारी की गई तस्वीरों में देखा गया है कि स्वास्थ्य कर्मचारी पूरी लंबाई वाले प्लास्टिक गाउन में दिख रहे हैं। उन्होंने सफेद टोपी लगाई हुई है और मास्क पहने हुए हैं।

क्रूज पर की गई अनाउंसमेंट के जरिए मेहमानों को उनकी जांच की बारी आने तक कमरों में ही रहने की सलाह दी गई है। साथ ही यह भी कहा गया है कि इस प्रक्रिया में थोड़ा समय लग सकता है, लेकिन इसके लिए आपका सहयोग और समझदारी बेहद जरूरी है।

स्वास्थ्य मंत्री कटसूनोबू काटो ने मीडिया को बताया कि जापान वायरस को लेकर अपनी जांच के दायरे को बढ़ाने का प्रयास कर रहा है। शुरुआती परीक्षण में जांच उपकरण कुछ लोगों में वायरस का पता लगाने में नाकामयाब रहे हैं, जिन्हें बाद में संक्रमित पाया गया। 

उल्लेखनीय है कि जापान में कोरोनावायरस के 20 मामलों की पुष्टि हुई है। इनमें से 17 लोग वुहान में रह कर आए हैं, उन्हीं लोगों के जरिए जापान में इस वायरस के फैलने की शुरुआत हुई है।

जापान ने शनिवार को हुबेई प्रांत से आने वाले विदेशियों के लिए प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। 3 फरवरी तक आठ विदेशियों को जापान आने से रोका गया है।