उत्तराखंड में बारिश से भारी तबाही, पुल टूटा, सड़क बही, हाइवे, मोटर मार्ग बंद

    0
    166
    बारिश

    उत्तराखंड में बारिश ने भारी तबाही मचाई है। देहरादून में सहस्रधारा रोड पर लगभग 30 मीटर से अधिक सड़क बह गई है। टिहरी जनपद में राजमार्ग 58 जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गया है। पर्वतीय क्षेत्र में जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। मलबा और बोल्डर आने से पुस्ते टूट गए हैं।

    टिहरी जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव का कहना है कि राष्ट्रीय राजमार्ग 58 को तपोवन से मलेथा तक पूर्ण रूप से वाहनों के लिए प्रतिबंधित किया गया है। टिहरी में स्थिति काफी गंभीर हो गई है। रायपुर से सहस्रधारा जाने वाली सड़क का 30 फीट हिस्सा नदी में समा गया है। दो वाहन नदी में बह गए हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ, जिलाधिकारी डॉ. आर राजेश कुमार ने खैरी मानसिंह, बंडावली और किशनपुरी का स्थलीय निरीक्षण कर क्षति का आकलन किया है।

    खैरी मानसिंह गांव के पास हुई इस घटना के बाद क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ मौके पर पहुंच गए हैं। इसके साथ ही साथ सहस्रधारा और मालदेवता क्षेत्र में भारी बारिश से काफी नुकसान हुआ है। मौसम विभाग ने पहले से ही चेतावनी दी थी कि इस क्षेत्र में भारी बारिश हो सकती है। देहरादून के जिलाधिकारी आर राजेश कुमार ने नदी के किनारे रहने वालों को सतर्क किया है। उप जिलाधिकारी मुख्यालय रामगोपाल बिनवाल ने क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों से सावधानी बरतने का आग्रह किया है।

    आपदा नियंत्रण कक्ष के अनुसार मलबा आने के कारण लगभग 659 मार्ग बंद हैं। इनमें दो देहरादून, 7 चमोली, 18 पौड़ी, 10 टिहरी, 3 बागेश्वर, 3 नैनीताल, 3 चम्पावत और पिथौरागढ़ में 17 मार्ग बाधित हैं। ऋषिकेश-देहरादून मार्ग पर रानीपोखरी के पास जाखन नदी पर बने पुल का बड़ा हिस्सा गिर गया है। इसके कारण दो छोटे मालवाहक वाहन और एक कार नदी में बह गए। पुल की दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई हैं।

    बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाइवे बंद: गुरुवार देर रात हुई बारिश के बाद बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाइवे कई जगह पर बंद है। यमुनोत्री हाइवे नैनबाग में मलबा आने से बंद हो गया है। शुक्रवार तड़के फकोट के समीप ऋषिकेश-गंगोत्री हाइवे का एक पूरा हिस्सा भारी बारिश से पूरी तरह टूट गया है, जिससे हाइवे के दोनों ओर वाहन फंस गए हैं। बारिश इतनी तेज है कि वहां मशीन भेजना भी चुनौती बना हुआ है।

    मालदेवता से सहस्त्रधारा जाने वाले बाइपास की सड़क का एक बड़ा हिस्सा बह गया है। लगातार हो रही बारिश के बाद नदी में उफान आने से सड़क को कई जगह क्षतिग्रस्त हो गई। करीब 30 मीटर सड़क का नामोनिशान नहीं बचा है। प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची है।आवाजाही बंद कर दी गई है। दोनों तरफ से आने वाले वाहनों को वापस लौटाया जा रहा है।