सरकारी विभागों पर ही बकाया है करोड़ों रुपये का बिजली का बिल

0
122
बिजली
पौड़ी के सरकारी विभाग ही बिजली का बिल भुगतान करने में गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं। जिले के विभिन्न सरकारी विभागों पर विद्युत विभाग का करोड़ों रुपये बकाया है। वसूली की जिम्मेदारी संभालने वाना चौबट्टाखाल तहसील कार्यालय भी बकायादार हैं। इसके अलावा घरेलू कनेक्शनों पर भी एक करोड़ रुपये का बकाया है। अब बिजली विभाग ने बिल का भुगतान न करने वालों के खिलाफ नोटिस जारी करने और कनेक्शन काटने की कार्यवाही शुरू कर दी है।
जानकारी मिली है कि विद्युत विभाग का विभिन्न सरकारी विभागों पर करीब 18 करोड़ का बकाया है, जिसमें सबसे अधिक 17 करोड़ से अधिक बकाया जल संस्थान पर है। इसके अलावा जल निगम पर भी 22 लाख का बकाया है। नगरपालिका पौड़ी पर भी चार लाख रुपये से अधिक की बकायादारी है। विभाग सेे मिली जानकारी के अनुसार बीएसएनएल के  पौड़ी व लैंसडाउन कार्यालय पर आठ लाख से अधिक का भुगतान शेष है। वहीं, स्वास्थ्य विभाग पर करीब 10 लाख का बकाया है।
तहसील कार्यालय पर ही बकाया धनराशि की वसूली की जिम्मेदारी होती है। उपजिलाधिकारी चौबट्टाखाल पर भी 11 हजार की धनराशि बकाया है। इसके अलावा उपजिला निर्वाचन अधिकारी, डीएफओ गढ़वाल, जिला आर्युवेदिक एवं यूनानी अधिकारी सहित 10 विकासखंड अधिकारियों के कार्यालयों का विद्युत बिल बकाया है।
अधिशासी अभियंता अभिनव रावत ने बताया कि बकाएदारों को नोटिस भेज दिया गया है और अब कनेक्शन काटने की प्रक्रिया जारी है। अभी तक 250 से अधिक कनेक्शन काट दिए गए हैं। रावत ने बताया कि जल संस्थान का भुगतान शासन स्तर पर होता है।