झोलाछाप डॉक्टर के क्लीनिक पर छापा

0
305
Exif_JPEG_420
कोटद्वार,  सीएम पोर्टल पर शिकायत के बाद जिला चिकित्सा अधिकारी के आदेश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने लकड़ीपड़ाव स्थित एक क्लीनिक पर छापेमारी की। टीम ने क्लीनिक से बरामद दवाइयों और चिकित्सा संबंधित उपकरणों को सील कर दिया। विभाग की कार्रवाई से अन्य क्लीनिकों के मालिकों में हड़कम्प मच गया और वे क्लीनिक को बंद कर मौके से फरार हो गए।
डॉ. शैलेन्द्र कुमार बडथ्वाल के नेतृत्व में टीम के सदस्यों ने लकड़ीपड़ाव स्थित एक क्लीनिक पर छापेमारी की। यहां से कुछ अंग्रेजी दवाइयों को अपने कब्जे में लेकर सील कर दिया है। टीम के सदस्यों ने उक्त डाॅक्टर के जरूरी दस्तावेजों की जांच की। क्लीनिक पर छापेमारी होते ही अन्य झोलाछाप डॉक्टर अपने क्लीनिक बंद कर गायब हो गए।
झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई के लिए छापेमारी का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी शहर में कई जगहों पर स्वास्थ विभाग की टीम छापेमारी कर चुकी है। शहर में ऐसे झोलाछाप डॉक्टरों की संख्या बढ़ती जा रही है जो सस्ते उपचार का लालच देकर लोगों के स्वास्थ से खिलवाड़ कर रहे हैं।
डॉ. बडथ्वाल ने बताया कि शिकायतकर्ता ने सीएम पोर्टल पर शिकायत की थी जिस पर यह कार्रवाई की गई है। शिकायतकर्ताओं रमेश क्षेत्री और शहजादा ने बताया कि अगस्त 2016 में उनका बच्चा बीमार हुआ। उसे उपचार के लिए पड़ोस के डॉक्टर के पास ले गए। उनकी दवाई से रिएक्शन हो गया। आनन-फानन में उसे अपने बच्चे को उपचार के लिए बाहर ले जाना पड़ा। इसकी शिकायत उन्होंने सीएमओ से की किंतु कोई कार्रवाई नहीं की गई। अत: उन्होंने अपनी शिकायत सीएम पोर्टल पर की।