धरने पर टांसपोर्टर प्रकाश पाण्डेय का परिवार, पत्नी ​की हालत बिगड़ी

0
1207

हल्द्वानी। सरकार से आर्थिक मदद नहीं मिलने पर ट्रांसपोर्टर प्रकाश पाण्डेय की पत्नी सहित पूरा परिवार सोमवार को चौथे दिन भी धरने पर बैठा रहा। इस दौरान पाण्डेय की पत्नी की अचानक स्वास्थ्य बिगड़ने से वह बेहोश हो गई लेकिन धरने पर बैठे परिजनों को कहना है कि है कि जब तक सरकार अपना वायदा पूरा नहीं कर लेती वह धरने से नहीं उठेंगे।

सोमवार को बुद्ध पार्क में धरने पर बैठीं टांसपोर्टर प्रकाश पाण्डेय की पत्नी कमला की तबियत अचानक बिगड़ गई। इस दौरान वह धरना स्थल पर ही बेहोश हो गईं। घटना की सूचना प्रशासन के अधिकारियों को दी गई। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की भी इसकी जानकारी दी गई। कमला पांडे की तबियत बिगड़ने की सूचना मिलने के बाद डॉक्टरों की टीम भी धरना स्थल पर पहुंची, जिसके बाद डॉक्टरों ने कमला का चेकअप किया। इस दौरान डॉक्टरों से कमला को अस्पताल में भर्ती कराने की सलाह दी। जिसपर कमला ने अस्पातल में भर्ती होने से साफ मना कर दिया।
धरना पर बैठे परिजनों का कहना है कि 12 लाख मुआवजा और पत्नी कमला को नौकरी देने का सरकार का वादा जबतक सरकार परिवार से किया गया वादा पूरा नहीं होता वह धरने से नहीं हटेंगी। इस दौरान प्रकाश पांडे की मां ने इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई। उन्होंने कहा कि बेटे की मौत के बाद परिवार पड़ोसियों की मदद के सहारे जी रहा है। अब वह ऐसे हालत में नहीं जीना चाहती हैं।