यमुनोत्री धाम यात्री प्रशासन के रवैये से नाराज

0
9
यमुनोत्री
FILE
यमुनोत्री धाम यात्री प्रशासन के रवैये से नाराज हैं। यमुनोत्री पैदल मार्ग भूस्खलन की वजह से आठ दिन से बंद है। इसकी सही जानकारी नहीं मिल पाने के कारण श्रद्धालु यात्रा पर पहुंच रहे हैं। मंगलवार को कुथनौर के पास पहाड़ी खिसकने से दिल्ली -यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग बंद रहा।
श्रद्धालुओं का आरोप है कि यमुनोत्री धाम की यात्रा में प्रशासन और पुलिस दो मानकों का प्रयोग कर रहा है। यात्रियों ने कहा है कि वे रविवार को यमुनोत्री धाम के दर्शन के लिए जानकीचट्टी पहुंचे। वहां  उन्हें सोमवार को आने को कहा गया। जबकि उनके बाद पहुंचे 24 यात्रियों को यमुनोत्री धाम जाने दिया गया। वह लोग मंगलवार को पहुंचे तो कहा गया कि यात्रा बंद है।
इन लोगों का कहना है कि अगर यात्रा बंद है तो प्रशासन साफ करे। लोग सैकड़ों किलोमीटर का सफर और पैसा खर्च कर यहां पहुंच रहे हैं। कहीं पर भी उन्हें यात्रा बंद होने की जानकारी नहीं दी जा रही है।
उल्लेखनीय है कि यमुनोत्री पैदल मार्ग पर भंगेली गाड़ के पास सितम्बर से लगातार भूस्खलन हो रहा है। पिछले हफ्ते जिला प्रशासन ने यमुनोत्री धाम यात्रा पर अग्रिम आदेश तक रोक लगा दी थी।  एसपी पंकज भट्ट ने कहा कि एसडीएम ने डीएफओ के लिए यात्रा की अनुमति दी थी। जिलाधिकारी और एसपी के आदेश पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।