वैकिसीन लगवाने के लिये अब जरूरी नही पहले कोविन रेजिस्ट्रेशन

    0
    93
    कोरोना
    FILE

    कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग टीकारण लक्ष्यों को शत प्रतिशत पूरा करने के लिए अभियान में और तेजी लाएगी। इसी अभियान के तहत टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल पर स्लॉट बुकिंग की बाध्यता को खत्म किया जा चुका है। कोई भी लाभार्थी केन्द्र पर जाकर टीका लगवा सकते हैं। तीसरी लहर में इस बार गांव और ब्लॉक तक संक्रमितों की उपचार के लिए व्यवस्था की गई है।

    दून के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) मनोज उप्रेती ने बताया कि जनपद में कोरोना टीकाकरण अंतिम चरण में है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल पर स्लॉट बुकिंग की बाध्यता को खत्म किया जा चुका है। कोई भी लाभार्थी जनपद के किसी भी सरकारी टीकाकरण केन्द्र पर जाकर टीका लगवा सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए जनपद के हेल्पलाइन नंबर 0135-2724506 पर कॉल कर सकते हैं। दिव्यांग जनों को घर पर ही टीका लगवाने के लिए 9368530756 पर किसी भी वक्त मैसेज और व्हाट्सएप कर जानकारी भेज सकते हैं। हमारी टीम उनके घर पर जाकर लाभार्थी का टीकाकरण करेगी।

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि कुछ क्षेत्रों में संक्रमण संबंधी आकड़ों में बढ़ोतरी की सूचनाएं आ रही हैं। इस संबंध में विभाग की ओर से 0 से 1 वर्ष, 1 से 10 वर्ष तथा 10 से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को सप्लीमेंटेशन औषधि का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण कम हुआ है लेकिन पूरी तरह समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए कोरोना के अनुरूप व्यवहार का निरंतर पालन करें।

    जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ दिनेश सिंह चौहान ने बताया कि 16 जनवरी से प्रारंभ किए अभियान में वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग जनों, 18 वर्ष से अधिक उम्र के लाभार्थियों लैक्टेटिंग मदर एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जा रहा है। पांच सितंबर तक पहली डोज के तहत कुल लक्ष्य 14 लाख 27 हजार 997 के सापेक्ष कुल 13 लाख 45 हजार 799 लोगों को टीका लगाया गया जा चुका है। दूसरी डोज 4 लाख 93 हजार 773 लोगों को लगाया गया है। पहली डोज के लिए शेष लाभार्थियों की 82198 संख्या और दूसरी डोज के लिए 934224 लाभार्थियों की संख्या है। घर-घर टीकाकरण अभियान के दौरान प्रतिरक्षित दिव्यांगजनों की संख्या 2100 है। जनपद में संचालित मोबाइल टीकाकरण टीमों की 109 संख्या है।

    कुल सरकारी टीकाकरण केन्द्रों की संख्या 547 और गैर सरकारी संख्या 94 है। अब तक जनपद में संचालित कुल गैर सरकारी केन्द्रों की 1 लाख 84 हजार है।

    टीकाकरण सत्रों की संख्या 18950, विदेश यात्री वर्ग में प्रतिरक्षित किए गए लाभार्थियों की 3654 संख्या है। वर्तमान में जनपद में वैक्सीन की मात्रा कोविशील्ड 3,35720, कोवैक्सीन 23,466 उपलब्ध है।