वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोगों को राज्य में प्रवेश की छूट

0
80
कोरोना

उत्तराखंड सरकार की ओर से कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगाने वाले व्यक्ति को राज्य में प्रवेश की छूट देने से प्रदेश में पर्यटकों की आमद बढ़ रही है, जिससे पर्यटन उद्योग को मदद मिलेगी।

उत्तराखंड में बीते कुछ दिनों से देश के दूसरे राज्यों से आ रहे पर्यटकों से पर्यटन उद्योग को मजबूती मिलने के साथ ही पर्यटन उद्योग से जुड़े लाखों कारोबारियों को बड़ी राहत मिली है।

कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके पर्यटक अब बिना किसी रिपोर्ट के उत्तराखंड में एंट्री कर सकते हैं। हालांकि सरकार की ओर से ये भी साफ किया गया है कि सभी यात्रियों को राज्य में लागू किए गए कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य होगा। दोनों टीका लगवा चुके दूसरे राज्यों के पर्यटक देहरादून स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर पंजीकरण कर बिना रोकटोक के राज्य में प्रवेश कर सकते हैं।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा, “सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए हर जरूरी कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध है। कोरोना के कम होते मामलों के बीच प्रदेश भर में पर्यटन गतिविधियों को शुरू करने के साथ देश भर से आने वाले पर्यटकों की सुरक्षा का विशेष ध्यान दिया जा रहा है। जिससे पर्यटकों को उत्तराखंड में सुरक्षित और स्वच्छ वातावरण उपलब्ध कराया जा सके।”

पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार लगातार प्रयासरत है। यह जंग जीतने के लिए टीकाकरण ही महत्वपूर्ण हथियार है। ज्यादा से ज्यादा लोग जब वैक्सीनेट हो जाएंगे तो हार्ड इम्यूनिटी हासिल हो जाएगी। ऐसे में वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके दूसरे राज्यों के पर्यटक बिना कोरोना जांच के उत्तराखंड आ सकते हैं। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कोरोना गाइडलाइन को ध्यान में रख प्रदेश भर में पर्यटन गतिविधियों को शुरू किया गया है।