कोझिकोड विमान हादसा: मथुरा पहुंचा सहायक पायलट अखिलेश का पार्थिव शरीर

0
146
पायलट
 गमगीन माहौल के बीच पंचतत्व विलीन में हुआ अखिलेश 
मथुरा, केरल के कोझिकोड में हुई विमान दुर्घटना में मारे गए सहायक पायलट अखिलेश का पार्थिव शरीर रविवार यहां पहुंचा जहां गमगीन माहौल के बीच आकाशवाणी मोक्षधाम पर अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान शासन प्रशासन का कोई भी नुमाइंदा नहीं पहुंचा। परिजन एवं क्षेत्रीय लोगों ने अखिलेश को शहीद का दर्जा एवं उनकी पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाने की मांग की है।
गौरतलब हो कि अखिलेश शर्मा 2017 में एयर इंडिया एयरलाइंस में भर्ती हुए थे और 2018 में अखिलेश की शादी हुई थी, अखिलेश के परिवार में पिता तुलसीराम और मां, बड़ी बहन मनीषा, दो छोटे भाई भी हैं। ’वंदे भारत मिशन’ के तहत दुबई से यात्रियों को लेकर एयर इंडिया का विमान केरल के कोझीकोड पहुंचा था, उसी समय दुर्घटनाग्रस्त हो गया। इस हादसे में दो पायलट सहित 18 लोगों की मौत हो गई।
33 वर्षीय अखिलेश शर्मा का पार्थिव शरीर रविवार को मथुरा के गोविंद नगर थाना क्षेत्र पोतरा कुंड के पास घर पर पहुंचा, जिसके बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है, को-पायलट अखिलेश शर्मा की अंतिम यात्रा में दर्जनों लोग शामिल हुए।  आकाशवाणी मोक्षधाम ध्रुवघाट पर अंतिम विदाई दी गई। मुखाग्नि छोटे भाई राहुल ने दी। इस दौरान शासन प्रशासन का कोई भी नुमाइंदा नहीं आया।
अखिलेश के पिता तुलसीराम शर्मा ने परिवार को आर्थिक सहायता और अखिलेश की पत्नी को सरकारी नौकरी देने की मांग की है तथा घर पर मौजूद क्षेत्रीय लोगों ने भारत सरकार से मांग की है कि अखिलेश ने अपनी जान की परवाह न करते हुए सैकड़ो जिंदगी बचा दी इसलिए अखिलेश कुमार को शहीद का सम्मान दिया जाना चाहिए। इस दौरान कोरोना के नोडल अधिकारी डॉ. भूदेव की मौजूदगी में स्वास्थ्य टीम गर्भवती पत्नी के स्वास्थ्य पर नजर बनाये हुए है।