हत्या के मामले में 18 वर्षो से फरार वारंटी को पुलिस ने मुजफ्फरनगर से किया गिरफ्तार

0
47
representational image
18 वर्ष पूर्व एक युवक की चाकू मारकर हत्या करने के आरोप में फरार चल रहे एक अभियुक्त को ऋषिकेश कोतवाली पुलिस ने मुजफ्फरनगर (उत्तर प्रदेश) से गिरफ्तार कर लिया है।
कोतवाली के प्रभारी रितेश शाह ने बताया कि वर्ष 1995 में एक वारंटी संजीव गुप्ता उर्फ सोनू के विरुद्ध कोतवाली ऋषिकेश में हत्या के अपराध में धारा 302/395 मे मुकदमा पंजीकृत हुआ था। इसमें रविंद्र सिंह निवासी श्यामपुर की चाकू मारकर हत्या की गई थी। उक्त मुकदमे में चार अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया था, जिनमें संजीव गुप्ता उर्फ सोनू निवासी ऋषिकेश, किशन गुप्ता निवासी ऋषिकेश, संदीप वशिष्ठ निवासी ऋषिकेश और अनिल निवासी सहारनपुर थे।
उक्त मुकदमे में वारंटी अभियुक्त संजीव गुप्ता छह माह जेल में रहने के पश्चात जमानत पर बाहर आ गया था। 23 मार्च, 2002 में न्यायालय से उक्त मुकदमे में दोषसिद्ध हुआ। चारों अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा हुई। उपरोक्त अभियुक्तों द्वारा इस फैसले के विरुद्ध  उच्च न्यायालय, नैनीताल में अपील की गई थी, जो 9 दिसम्बर, 2011 को निरस्त हो गई। उपरोक्त अभियुक्तों मे से तीन अभियुक्त किशन गुप्ता, संदीप वशिष्ठ व अनिल का देहांत हो चुका है और अभियुक्त संजीव गुप्ता उर्फ सोनू जमानत में आने के पश्चात वर्ष 2002 से फरार चल रहा था। उसके पिता महेंद्र नाथ गुप्ता आईडीपीएल फैक्टरी में इलेक्ट्रिशियन के पद पर कार्यरत थे। ये लोग मुजफ्फरनगर में निवास कर रहे हैं। कुछ समय से संजीव गुप्ता ट्रांंसपोर्ट की गाड़ी चलाने का कार्य कर रहा था।