पौड़ी की छात्रा को एम्स ऋषिकेश से सफदरगंज दिल्ली किया रेफर

0
720

(देहरादून) ऋषिकेश एम्स में भर्ती पौड़ी की छात्रा को दिल्ली सफदरजंग के लिए भेज दिया गया है। बुधवार को 12:30 बजे छात्रा को एम्स से एंबुलेंस के जरिए जौलीग्रांट एयरपोर्ट ले जाया गया जहां से एयर एंबुलेंस के ज़रिए उसे सफदरजंग दिल्ली के लिए भेजा जा रहा है।

रविवार को जनपद पौड़ी के जंगलो में एक छात्रा को जिन्दा जलाने का प्रयास किया गया था।आपको बताते चले कि गढ़वाल विश्वविद्यालय की बीए की छात्रा को जंगल में पेट्रोल डाल कर जिन्दा जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। इस घटना में छात्रा 80 प्रतिशत जल गई है। छात्रा को गंभीर हालत में जिला अस्पताल पहुँचाया गया। जहाँ चिकित्सको ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुये उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया था।

बताया जा रहा है की इस घटना को बंटी नाम के एक टैक्सी चालक ने अंजाम दिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार पौड़ी से कुछ दूर बुआखाल के जंगलो में छात्रा पर पेट्रोल डाल कर उसे जिंदा जलाने का प्रयास किया। छात्रा ने किसी तरह से अपनी आग को बुझाया, चीखने चिल्लाने पर ग्रमीणों ने उसको जिला अस्पताल पहुँचाया। अपने बयानों में पीड़िता छात्रा ने आरोपी बंटी का नाम लिया है। उधर, राज्य सरकार की कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने एम्स पहुंच कर छात्रा से मुलाकात की और साथ ही उन्होंने सभी प्रकार की मदद उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।

बीते 3 दिनों से छात्रा का उपचार एम्स ऋषिकेश में चल रहा था। मंगलवार को एम्स पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने छात्रा को बेहतर उपचार के लिए सफदरजंग दिल्ली भेजने का आश्वासन दिया था। पहले सुबह आठ बजे छात्रा को यहां से शिफ्ट करने की तैयारी थी, मगर एंबुलेंस की व्यवस्था में देरी के चलते 12:30 बजे छात्रा को सफ़दरजंग रेफ़र किया जा सका।

वहीं इस घटना पर बात करते हुए कांग्रेस के किशोर उपाध्याय ने कहा कि, “गंगा प्रसूता देव भूमि उत्तराखंड पर इस तरह की घृणित घटनायें कलंक हैं।”

हालांकि छात्रा की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है और एम्स के दो चिकित्सक छात्रा के साथ दिल्ली जा रहे हैं।