ग्लेशियर, झील से कोई खतरा नहीं: एसडीआरएफ

0
166
एसडीआरएफ
file
चमोली जिले जोशीमठ विकास खंड के  रैणी क्षेत्र स्थित ऋषिगंगा नदी के उद्गम क्षेत्र का स्थलीय निरीक्षण कर एसडीआरएफ की टीम लौट आई है। टीम ने क्षेत्र में ग्लेशियर की स्थिति सामान्य बताई है। टीम के सदस्यों का कहना है कि ग्लेशियर और झील से वर्तमान में किसी भी प्रकार का खतरा नहीं हैं।
बीते दिनों रैंणी क्षेत्र के ग्रामीणों की ओर से ग्लेशियर में दरार होने की आशंका जताई थी। शासन और प्रशासन ने मामले का संज्ञान लेते हुए एसडीआरएफ की टीम को ऋषिगंगा नदी के उद्गम क्षेत्र के स्थलीय निरीक्षण के लिये भेजा था। एसडीआरएफ की टीम सोमवार को क्षेत्र का निरीक्षण कर लौट आई है।
टीम का नेतृत्व कर रहे एसडीआरएफ के एसआई कुलदीपक पांडे का कहना है कि टीम की ओर से ग्लेशियर का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कोई खतरे वाली स्थिति नहीं दिखाई दी है। वहीं उद्गम क्षेत्र में स्थित झील के मुहाने पर अटके गाद और अन्य सामग्री को टीम ने हटा दिया है। ऐसे में अभी झील अथवा ग्लेशियर से कोई खतरे वाली स्थिति नहीं है। निरीक्षण टीम में एसडीआरएफ के आरक्षी हरीश चंद्र सिंह, प्रमादे मठपाल, हरपाल सिंह, सुनील दौरियाल शामिल थे।