घर बैठे पायें इलाज, डायल करें 555

0
951

सुदूर गांवों के लोगों को शायद अब डॉक्टर से मदद मिलना आसान हो जाएगा। इसके लिए टिहरी जिले में 555 स्वास्थ्य सेवा शुरू की जा रही है। टोल फ्री नंबर 555 डॉयल करने पर घर बैठे ही डाॅक्टर से बातचीत की जा सकेगी। राज्य में पहली बार इस तरह का प्रयोग किया जा रहा है। टिहरी की जिलाधिकारी सोनिका ने बताया कि “योजना का मकसद स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित गांवों तक पहुंचना है।” उन्होंने बताया कि “इसके लिए जिला मुख्यालय में एक कंट्रोल रूम बनाया गया है।कंट्रोल रूम में फोन आने पर संबंधित व्यक्ति का नाम और पता रिकार्ड में दर्ज किया जाएगा। इसके बाद बीमारी के बारे में बात की जाएगी। तब मरीज की बात कांफ्रेंसिंग के जरिये जिला अस्पताल के चिकित्सक से कराई जाएगी। यदि चिकित्सक को किसी परीक्षण की आवश्यकता महसूस होगी तो मरीज को निकटतम ऐसे स्वास्थ्य केंद्र में जाने को कहा जाएगा जहां परीक्षण की सुविधा मौजूद है।”

इसके अलावा वह पास के स्वास्थ्य केंद्र से दवा भी ले सकता है। जिलाधिकारी के अनुसार कंट्रोल रूम में होने वाली प्रत्येक कॉल की रिकार्डिंग की जाएगी और वह स्वयं इसकी मानीटरिंग करेंगी। कंट्रोल रूम में सभी गांवों की जानकारी और उनके निकटतम अस्पताल का डाटा उपलब्ध है। ये सेवा 16 जून से शुरू कर दी जाएगी। योजना के लिए साफ्टवेयर तैयार कर लिया गया है।

गौरतलब है कि टिहरी जिले में कुल 1862 गांवों में से करीब 1000 स्वास्थ्य सुविधाओं से दूर हैं। इतना ही नहीं जिले में डाॅक्चिटरों के कुल 260 पद हैं, जबकि तैनाती महज 60 की है। जिला अस्पताल में चिकित्सकों के 19 पदों के सापेक्ष 12 डॉक्टर कार्यरत हैं।