सनकी आशिक को कोर्ट ने सुनया दस साल का कारावास

0
699
हाईकोर्ट

बागेश्वर- नाबालिक को दिल दे बैठे सनकी आशिक को दस साल की सजा सुनाई गयी है, शनकी आशिक पहले तो नाबालिक को घर से लेकर फरार हो गया और कुछ दिन बाद जब घर लौटा तो सब कुछ खुलकर सामने आ गया, जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाही करना शुरु कर दिया।

बताया जा रहा है कि अभियुक्त भगवत जनौटी निवासी ग्राम जनौटी पालड़ी, थाना झिरौली ने क्षेत्र की ही एक नाबालिग लड़की को अपने साथ भगाकर ले गया और दुराचार किया, मामले में पीड़िता के पिता ने थाना झिरौली में 20 दिसंबर को तहरीर दी। जिसके बाद मामले की विवेचना पुलिस उपाधीक्षक वीर सिंह ने की। पुलिस के अनुसार आरोपी ने नाबालिग को कई दिनों तक अपने पास रखा। इसके बाद वह वापस लौटा तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर पूछताछ करना शुरू किया। नाबालिग का अपहरण कर उसके साथ दुराचार करने के दोषी को विशेष सत्र न्यायाधीश एचएस बोनाल की अदालत ने 10 साल के कारावास व जुर्माने की सजा सुनाई है। आरोपी का कहना था कि वह प्यार करता है। लड़की के नाबालिग होने के कारण उसके खिलाफ पॉक्सो अधिनियम तथा एससी, एसटी एक्ट में मामला दर्ज किया गया।