बागेश्वर विधानसभा उपचुनाव : 1 बजे तक हुआ 38.08 प्रतिशत मतदान

0
186
बागेश्वर

बागेश्वर विधानसभा सीट पर उपचुनाव में 1 बजे तक हुआ 38.08 प्रतिशत मतदान हो चुका है जबकि सुबह 11 बजे तक 26 फीसद मतदान हुआ था। मतदान सायं 07 बजे तक चलेगा। इस विधानसभा क्षेत्र के एक लाख, 18 हजार, 225 मतदाता अपना विधायक चुनेंगे। भाजपा कांग्रेस सहित कुल पांच उम्मीदवार मैदान में है। परिणाम 08 सितंबर को घोषित किये जाएंगे।

भाजपा उम्मीदवार पार्वती दास ने सैनिक कल्याण कार्यालय स्थित बूथ पर और कांग्रेस उम्मीदवार बसंत कुमार ने मंडलसेरा बूथ पर अपनी पत्नी रितु बसंत के साथ मतदान किया। कुमाऊं मंडल आयुक्त दीपक रावत एंड आईजी ने निर्वाचन कंट्रोल रूम का निरीक्षण कर मतदान की जानकारी ली।

जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने राजकीय बालिका इंटर कॉलेज बागेश्वर में मतदान किया। सुबह नौ बजे तक 10.2 फीसद मतदान हुआ। मतदान को लेकर युवाओं के साथ ही बुजुर्गों में भी उत्साह देखा जा रहा है। दिव्यांग मतदाता भी मतदान कर रहे हैं।

पूर्व मंत्री चंदन राम दास के निधन के बाद यह सीट खाली है। इस सुरक्षित विधानसभा सीट पर चुनाव मैदान में भाजपा से पार्वती दास, कांग्रेस बसन्त कुमार, समाजवादी पार्टी भगवती प्रसाद, उत्तराखंड क्रांतिदल अर्जुन कुमार देव, उत्तराखण्ड परिवर्तन पार्टी भगवत कोहली सहित पांच उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

बागेश्वर में कुल 118266 मतदाता है। जिनमें 60076 पुरुष और 58188 महिला मतदाता है। इसी तरह सर्विस मतदाता के रूप में 2150 पुरुष और 57 महिला मतदाता है। कुल 188 मतदेय स्थल और 172 मतदान केन्द्र, 15 पोलिंग स्टेशन, तीन जौन, 28 सेक्टर, 15 माइक्रो आर्ब्जवर, आरक्षित कर्मियों सहित कुल 834 मतदान कार्मिक, सुरक्षा कर्मियों की संख्या 1444, एफएसटी 6, एसएसटी 10 की ड्यूटी लगी है।

80 से ऊपर मतदाताओं की संख्या 2545 है जिनमें 907 पुरुष, 1729 महिला है। इसी तरह पोस्टल वैलेट से मतदान करने वाले लोग 936 है। इस विधानसभा में कुल दिव्यांग मतदाता 1355 हैं, जिनमें से 50 मतदाताओं ने पोस्टल वैलेट से मतदान किया है। निर्वाचन डयूटी में तैनात कर्मी 624 हैं, जिन्होंने पोस्टल वैलेट से मतदान किया है। इनमें 365 मतदान कर्मी, 205 पुलिसकर्मी 54 अन्य निर्वाचन ड्यूटी में शामिल कर्मचारी हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी डा.वी षणमुगम ने कहा कि चुनाव निष्पक्ष हो और अधिक से अधिक मतदान हो इसके लिए सभी प्रकार की चाक चौबंद व्यवस्थाएं की गई है। दिव्यांगों और बुजुर्गों को विशेष ध्यान रखा गया है। इस उपचुनाव में 05 आदर्श और 01 सखी बूथ हैं।