शराब की दुकानों के बाहर भीड़ से यदि कोरोना बढ़ा तो सरकार होगी जिम्मेदारः इंदिरा हृदयेश

0
73
नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश ने केंद्र और राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि इन दिनों शराब की दुकानों में लग रही भीड़ के कारण यदि कोरोना वायरस फैलता है और आंकड़े बढ़ते हैं तो इसकी जिम्मेदार सरकार होगी।
उन्होंने आज यहां कहा कि जहां आज दुनियाभर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकार ने कई दिनों से देशभर में लाॅक डाउन लगा रखा है। इस दौरान लोग अपने-अपने घरों में कैद हो गये हैं, ताकि कोरोना को रोका जा सके। इसके लिए लोग सभी नियमों का पालन कर रहे हैं। एक दूसरे से उचित दूरी बनाये हुए हैं। इधर उधर फालतू लोगों ने जाना बंद कर दिया है। इस दौरान लोगों को काफी दिक्कतों व परेशानियों का सामना करना पड़ा है। कई लोग अपने घरों से भी दूर हो गये और जहां थे वहीं रह गये। इतने दिनों से कोरोना को हराने के लिए लोगों ने सामाजिक दूरियां भी बनाईं। उन्होंने कहा कि जहां देश के प्रधानमंत्री मोदी आम जनता से अपील कर रहे हैं कि दो दो गज की दूरी रखें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। आम जनता ने उनकी बात को रखा और उनकी बात का पालन किया।
उन्होंने कहा कि इस बीच जैसे ही शराब की दुकानें खोली गईं, उन दुकानों को खोलने के बाद कहा जा सकता है कि जन सैलाब आ गया। हर एक व्यक्ति के ऊपर दूसरा व्यक्ति चलने के लिए तैयार था और उस समय कोई भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया। यदि इन हालात में कोरोना वायरस का संक्रमण आम जनता के बीच में फैलता है तो इसके लिए पूर्ण जिम्मेदार केंद्र व राज्य सरकार ही होगी। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अगर शराब की दुकानें खोलने ही थीं तो शुरू में ही खोल देते और अगर केंद्र और राज्य सरकार को अपनी आमदनी ही करनी थी तो उन्हें उन गरीब वर्ग के बारे में भी सोचना चाहिए था, जो कुआं खोदकर पानी पीते हैं यानी कि जो दिहाड़ी मजदूर हैं जो रोज काम कर कर अपना जीवन यापन करते हैं।