चमोली में बाहरी लोगों की बढ़ रही तादात, अलर्ट रहने की जरूरतः आईजी

0
219
गोपेश्वर, पुलिस महानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र अजय रौतेला ने बुधवार को चमोली जिला मुख्यालय के पुलिस कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के बादबातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि चमोली जिले में अपराध काफी कम है और जिले में शांति है। लेकिन बावजूद इसके बाहरी लोगों का जिस तरह से यहां पर आवगमन बढ़ रहा है। ऐसे में पुलिस को सतर्क रहने की जरूरत है।
पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि तीन मार्च से गैरसैण के भरारीसैण में उत्तराखंड विधानसभा का बजट सत्र होना प्रस्तावित है। जिसको लेकर वहां सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गये हैं। बजट सत्र के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के लिए 14 सौ पुलिस कर्मियों की तैनाती की जायेगी। उन्होंने कहा कि अब अपराध करने का ट्रेंड बदल रहा है। अब इंटरनेट के माध्यम से साइबर क्राइम सामने आ रहा हैंं, जिसको लेकर भी पुलिस काफी सर्तक है। साथ ही नशे के बढ़ते चलन के प्रति भी पुलिस गंभीरता से काम कर रही है। चमोली जिले के मुख्यालय गोपेश्वर के ग्वाड़ गांव के किशोर की मौत की जांच की मांग कर रहे ग्रामीणों के आंदोलन पर पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि उन्होंने एसपी चमोली को निर्देश दिए है कि मामले में एफआईआर दर्ज कर इसकी विवेचना करते हुए साक्ष्यों के आधार पर मामले को जल्द निपटाया जाए। इससे पहले पुलिस महानिरीक्षक ने कर्णप्रयाग व गोपेश्वर पुलिस कार्यालय का भी निरीक्षण किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने पुलिस के अधिकारियों के साथ बैठक कर कानून व्यवस्था और थानों में लंबित मामलों  की समीक्षा की।
एसपी चमोली ने बताया कि गैरसैण के भरारीसैण के पास पुलिस को भूमि आवंटित हुई है। जिसमें पुलिस बैरेक का निर्माण कार्य चल रहा है। शीघ्र ही यहां पर पुलिस के जवानों की रहने की व्यवस्था हो जायेगी।