लाॅक डाउनः इस बार एक जून को नहीं खुल पायेंगे लोकपाल लक्ष्मण मंदिर व हेमकुंड के कपाट

0
345
हेमकुंड
लक्ष्मण मंदिर और हेमकुंड साहिब के यात्रा की तैयारियां पूर्ण न होने के चलते 25 वर्षों बाद एक बार फिर हेमकुंड साहिब की यात्रा एक जून को शुरू नहीं हो सकेगी। हेमकुंड गुरुद्वारा ट्रस्ट ने मामले में सोशल मीडिया के माध्यम से एडवाजरी जारी कर दी है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को लेकर शासन के निर्देशों के अनुसार ही यात्रा की तिथि का निर्धारण किया जाएगा।
सिखों के प्रसिद्ध तीर्थ हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण लोकपाल मंदिर के पैदल मार्ग पर इस वर्ष शीतकाल में हुई भारी बर्फबारी के चलते बर्फ जमी हुई है। लॉकडाउन के चलते यहां पहुंचने वाले गुरुद्वारे के सेवादारों और सेना के जवानों के न पहुंचने से तैयारियां शुरू नहीं हो सकी हैं जबकि यहां बीते वर्षों तक अप्रैल माह के मध्य तक यहां यात्रा मार्ग से बर्फ हटाने का कार्य शुरू हो जाता था। ऐसे में गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी की ओर से तीन मई को लॉकडाउन खत्म होने के बाद तिथि निर्धारण करने का निर्णय किया है।
क्या कहते है गुरुद्वारा प्रबंधक
सिख मत में तिथि निर्धारण प्रकृति नियमों के अनुरूप होती है। 25 वर्ष पूर्व तक संसाधनों के अभाव के चलते हेमकुंड की यात्रा पांच जून को शुरू होती थी। ऐसे में इस वर्ष शासन के निर्देशों और लोगों की सुरक्षा के चलते एक जून को यात्रा शुरू करवाने के निर्णय में परिवर्तन किया गया है। उन्होंने बताया कि ट्रस्ट की ओर से लॉकडाउन के लिए निर्धारित तीन मई के बाद यात्रा को शुरू करवाने को लेकर शासन के निर्देशों के अनुसार निर्णय लिया जाएगा।