उत्तरकाशी: जानकारी छुपाने के आरोप में कोरोना पाॅजीटिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज

0
278
कोरोना
कोरोना पॉजिटिव युवक के खिलाफ बुधवार को साक्ष्य छिपाने के आरोप में थाना कोतवाली में धारा 307,201, 188, 269, 270 व 51 बी आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है। यह जानकारी थाना अध्यक्ष महादेव उनियाल ने दी।
उन्होंने बताया कि यह युवक महाराष्ट्र से आया था। इसका सैंपल एम्स ऋषिकेश में लिया गया था। यह जिले के रवांईघाटी गांव का रहने वाला है। इस युवक ने एम्स ऋषिकेश में सैंपल लेने की बात छुपाई। गलत मोबाइल नंबर दिया। साथ ही अन्य साक्ष्य भी छुपाए। 18 मई को इस युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
थाना अध्यक्ष ने बताया कि यही नहीं इस युवक का सैंपल 17 मई को लिया गया। इसके बाद वह एम्स ऋषिकेश को सूचना दिए बिना बड़कोट पहुंच गया। इस दौरान कई लोगों से मिला। किसी को भी सैंपल आदि की बात नहीं बताई। एम्स ऋषिकेश में अपना गलत मोबाइल नंबर दर्ज कराया।
एकांतवास केन्द्र पर पुलिस से अभद्रता करने पर पिता-पुत्र गिरफ्तार
उत्तरकाशी जिला मुख्यालय के समीपवर्ता गांव मानपुर के एकांतवास केन्द्र पर तैनात पुलिसकर्मियों से प्रधान पति को गाली गलौज करना भारी पड़ गया। पुलिस ने अभद्र व्यवहार और सरकारी काम में अड़चनें डालने के आरोप में पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले दो आरोपित फरार हो गये हैं। बताया गया कि एकांतवास केंद्र पर पुलिस के साथ धक्का-मुक्की कर अपने बाप को छुड़ाने का प्रयास कर रहे थे। पुलिस ने बाप-बेटे को पकड़ लिया जबकि दो अन्य मौक से फरार हो गये। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में उपनिरीक्षक भगवान सिंह बिष्ट, कॉस्टेबल ब्रजमनी भट्ट, विजय पाल शामिल थे। पुलिस फरार दोनों लोगों को तलाश कर रही है।