विपक्ष विहीन भारत बनाकर लोकतंत्र की हत्या कर रही भाजपाः रावत

0
167

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा है कि भाजपा विपक्ष विहीन भारत बनाकर लोकतंत्र की हत्या कर रही है और देश को पूंजीपतियों की गुलामी से बचाने के लिए अब देश की जनता को एकजुट होना होगा। उन्होंने कांग्रेस की भावी रणनीति की जानकारी देते हुए कहा कि वे भाजपा हटाओ-देश बचाओ का नारा देकर अगला लोकसभा चुनाव हरिद्वार से लड़ेंगे। यह बात उन्होंने प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कही।

बिहार के ताजा घटनाक्रम को महान अवसरवादी और निम्न स्तरीय राजनीति बताते हुए कहा कि बिहार की जनता ने भाजपा को नकार कर महागठबंधन के पक्ष में मतदान किया था लेकिन भाजपा ने अलोकतांत्रिक ढंग से बिहार में सत्ता परिवर्तन कराकर वहां के सबसे बड़े राजनीतिक दल को अलग-थलग कर सत्ता में साझेदारी कर ली यह बिहार की जनता का बहुत बड़ा अपमान है। नीतीश कुमार को सबसे बड़ा सत्तालोभी तथा अवसरवादी बताते हुए कहा कि नितीश कुमार को महागठबंधन बनाते समय भी लालू यादव परिवार के विषय में पूर्ण जानकारी थी फिर भी उन्होंने लालू प्रसाद यादव के साथ मिलकर सत्ता हासिल की और अब उसे दरकिनार कर फिर से भाजपा से मिल गए यह भी बिहार की जनता का अपमान है।
गुजरात में धन बल के आधार पर की गई तोड़-फोड़ को भाजपा की काली करामात बताते हुए कहा कि उसने उत्तराखण्ड में भी यही किया। आज यूपी, उत्तराखण्ड ही नहीं पूरे देश में विकास नाम की कोई चीज नहीं है। केन्द्र सरकार जनता से धन एकत्र करने में जुटी है और देश की जनता का 70 साल का कमाया हुआ धन कहां जा रहा इसका जवाब जनता अगले चुनाव में भाजपा से मांगेगी।
लोकतंत्र की हत्या के लिए भाजपा द्वारा देश पर किए जा रहे ताबड़तोड़ हमलों की निंदा करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि जिस देश और समाज की व्यवस्थाओं को कांग्रेस ने छह दशक के अपने अथक प्रयासों से संवारा भाजपा ने तीन सालों में सारी लोकतांत्रिक व्यवस्थाएं तार-तार कर दीं। अब देश के सामने संवैधानिक खतरा उत्पन्न होने वाला है। राज्यसभा परिसदन के लिए चुने जाने वाले प्रतिनिधियों के चयन में हुई हेरा-फेरी की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि जिस राज्य में जिस दल के जितने सदस्य होते थे। उसी आधार पर राज्यसभा के लिए चयन होता था लेकिन भाजपा ने सारे मानकों को ठेंगा दिखाकर मनमानी की जो लोकतंत्र के लिए बहुत बड़े खतरे की घंटी है।
कांग्रेस नेता ने चुनाव से पूर्व भाजपा द्वारा किसानों से किए गए वादों को जनता के साथ बहुत बड़ा छलावा बताते हुए कहा कि उस समय तो ऋण माफी और आय दोगुनी करने का झांसा दिया गया था लेकिन सत्ता पाते ही सारे वादे हवा-हवाई हो गये। अब किसान आत्महत्या कर रहे हैं और भाजपा जश्न मना रही है। भाजपा नेताओं पर गलत बयानी का आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव जीतने के बाद हरिद्वार के सांसद कहां चले गए। बिना बजने वाले शंख की आवाज सुनने को हरिद्वार की जनता तरस रही है। हरिद्वार जाम से जूझ रहा है और फोरलेन निर्माण अधर में लटका पड़ा है।

भाजपा पर कांग्रेस के जनहितकारी निर्णय पलटने का आरोप लगाते हुए हरीश रावत ने कहा कि गंगा तट से 200 मीटर दूर तक के मकानों को बचाने के लिए ही उन्होंने हरकी पैड़ी से आगे बहने वाली गंगाजल की धारा को गंगनहर बताया था, ताकि जन-धन की हानि को रोका जा सके। जबकि भाजपा के नगर विकास मंत्री ने हरिद्वार का क्या हाल कर दिया किसी से छुपा नहीं, जनता स्वयं भाजपा से इसका हिसाब लेगी।