राज्य स्थापना दिवस पर 35 न्याय पंचायतों में होंगे खेल

0
926

बागेश्वर। जिलाधिकारी ने राज्य स्थापना दिवस पर विभाग को 35 न्याय पंचायतों में खेलकूद कराने की जिम्मेदारी सौंपी है। इसके लिए युवा कल्याण विभाग खेल महाकुंभ की तैयारी में जुट गया है।

कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रंजना की अध्यक्षता में बैठक हुई। उन्होंने बताया कि नौ नवम्बर को जिले के 35 न्याय पंचायतों में खेल महाकुंभ का आयोजन किया जा रहा है। यहां अव्वल रहे खिलाड़ी ब्लॉक स्तर पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाएंगे। उन्होंने बताया कि ग्रामीण स्तर पर खेल महाकुंभ से प्रतिभाएं निखरेंगी। इसके लिए विभाग को सफल संचालन के निर्देश दिए। यहां से चयनित खिलाड़ी जिलास्तर और प्रदेश स्तर में होनी वाली प्रतियोगिताओं में भाग ले सकेंगे।
डीएम ने बताया कि न्याय पंचायत स्तर पर कराए जाने वाले खेलों में 12 से 19 साल तक के बालक-बालिकाएं प्रतिभाग कर सकेंगे। ऐसे खिलाड़ी ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन करेंगे। उन्होंने बताया कि अधिक जानकारी के लिए ब्लॉक, जिला स्तर पर युवा कल्याण अधिकारी कार्यालय से संपर्क कर सकेंगे। उन्होंने अन्य विभागों से भी इसमें सहयोग करने को कहा है। उन्होंने बताया कि निर्धारित तिथि पर खेल महाकुंभ होने हैं, जिसके लिए विभाग अभी से तैयारी करेगा।
बैठक में एडीएम राहुल गोयल, डीडीओ केएन. तिवारी, जिला पंचायत राज अधिकारी पूनम पाठक, खेल अधिकारी विनोद वल्दिया, डीईओ बेसिक आकाश सारस्वत, प्रभारी जिला युवा कल्याण अधिकारी हेमा परिहार आदि मौजूद थे। राज्य स्तरीय फुटबॉल प्रतियोगिता नौ से 13 नवम्बर तक पीजी कॉलेज खेल मैदान में खेली जाएगी। खेल अधिकारी विनोद वल्दिया ने बताया कि प्रतियोगिता में पिथौरागढ़, हल्द्वानी, काशीपुर, उत्तरकाशी, हरिद्वार, अल्मोड़ा, गोपेश्वर, चंपावत, बागेश्वर आदि जिलों की टीमें भाग लेंगी। यह राज्य की सर्वश्रेष्ठ 12 टीमों में शामिल हैं। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता लीग कम नॉक आउट आधार पर खेली जाएगी। खिलाड़ियों को निर्धारित मानकों के अनुसार वास्तविक रेल, बस किराया, भोजन भत्ता, आवास भत्ता और अनुसांगिक व्यय देय होगा।