नैनीताल में अब शराब की खाली बोतलों के बदले मिलेंगे 10 रुपये

0
320

नैनीताल नगर को पर्यटन की दृष्टि से स्वच्छ एवं साफ बनाने के लिए नगर में एक नई पहल शुरू होने जा रही है। नगर में शराब की खाली बोतलों के बदले अब दस रुपये मिलेंगे।

इसके लिए शराब की बोतलों पर क्यूआर कोड लगाए जाएंगे। इसके अलावा अन्य सामानों पर भी क्यूआर कोड लगाने की योजना है। इन क्यूआर कोड लगी बोतलों व अन्य सामानों को नगर में स्थापित होने वाले कूड़ा कलेक्शन सेंटरों पर लौटाने पर 10 रुपए दिए जाएंगे। आगे पूरे जनपद में यह योजना लागू करने की योजना है।

जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने मंगलवार को प्लास्टिक एवं मदिरा की खाली बोतलों के जहां-तहां फेंकने की समस्या पर नियंत्रण लगाने के लिए इस नई पहल का ऐलान किया है। योजना के तहत शराब उपभोक्ता शराब की खाली बोतलों को शराब की दुकानों पर बने कूड़े के कलेक्शन सेन्टर पर वापस करेंगे तो उन्हें दस रुपये वापस मिलेंगे।

जिला कलक्ट्रेट सभागार में कूड़ा निस्तारण के संबंध में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक लेते हुए डीएम ने जिला आबकारी अधिकारी को निर्देश दिये कि शहर में प्रतिदिन बिकने वाली शराब का सही डाटा बनाएं और रिसाइक्लिंग संस्था से समन्वय बनाते हुए शराब की खाली बोतलों पर क्यूआर कोड लगवाएं। उपभोक्ताओं अथवा किसी भी व्यक्ति को खरीदी हुई क्यूआर कोड युक्त बोतल को पुनः सम्बन्धित दुकानों पर बने कूड़ा कलेक्शन सेन्टर पर वापस करने पर दस रुपये वापस मिलेंगे।

उन्होंने कहा कि इस योजना को प्रथम चरण में नैनीताल शहर में और बाद में सम्पूर्ण जनपद में लागू किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इससे जहां पर्यावरण सुरक्षित होगा वहीं जहां-तहां पड़े बोतलों से पशुओं को पहुंचाने वाले खतरे पर रोक लगेगी।