लालकुआं-अमृतसर ट्रेन संचालन से उत्तराखंड-उत्तर प्रदेश के श्रद्धालुओं की राह होगी आसान

0
114
कोटद्वार
FILE

लालकुआं-अमृतसर ट्रेन संचालन को मंजूरी मिलने पर केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्यमंत्री व नैनीताल उधम सिंह नगर से सांसद अजय भट्ट ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आभार जताया।

भट्ट ने कहा कि भविष्य में यह ट्रेन काठगोदाम से भी संचालित की जाएगी। उत्तराखंड के जनपद ऊधमसिंहनगर, नैनीताल एवं उत्तर प्रदेश के रामपुर आदि जनपदों से श्रीहरमंदिर साहिब अमृतसर एवं डेरा व्यास व वैष्णो देवी के लिए आवागमन करने वालों को भी रेल संचालन से बेहद लाभ होगा।

केंद्रीय राज्यमंत्री ने बताया कि काठगोदाम और अमृतसर के बीच ट्रेन संचालन का मामला 28 नवंबर 2019 को शून्य काल के दौरान संसद के प्रश्न काल के सत्र में उठाया था। इसके बाद लगातार वह कई बार रेल मंत्री से मिले और कई बार पत्र भी लिखे। दो दिन पूर्व भी भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय कार्यसमिति में पुनः रेल मंत्री से मुलाकात कर रेल संचालन के लिए आग्रह किया था, जिसके फलस्वरूप मंगलवार को कुमाऊं के लोगों के लिए खुशखबरी आई कि लालकुआं-अमृतसर के बीच ट्रेन संचालन को मंजूरी मिल गई है। अब रेल मंत्रालय की ओर से ट्रेन संचालन की मंजूरी प्रदान करने के साथ जल्द लालकुआं से अमृतसर के लिए नई ट्रेन चलेगी।

भट्ट ने बताया कि उत्तराखंड राज्य धार्मिक एवं पर्यटन की दृष्टि से अतिमहत्वपूर्ण राज्य है। जनपद ऊधमसिंह नगर के सितारगंज में विश्व विख्यात नानकमत्ता गुरुद्वारा साहिब है, जहां वर्षभर देश-विदेश के सैलानियों का लगातार आना-जाना लगा रहता है। वर्तमान में जनपद नैनीताल एवं ऊधमसिंह नगर के आस-पास अधिक संख्या में सिख समुदाय के लोग निवास करते हैं तथा प्रदेश के पूरे तराई क्षेत्र के लोग अमृतसर में रोजगार भी करते हैं। इससे निरंतर आना-जाना लगा रहता है।