चारधाम पंजीकरण की बाध्यता खत्म करने पर करें विचार : अपर मुख्य सचिव

0
89
चारधाम

अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन ने चारधाम यात्रा में यात्रियों के सुविधा को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री के निर्देश पर देवस्थानम् बोर्ड के ई-पास होल्डर को स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर पंजीकरण की बाध्यता को एसओपी से हटाने के लिए विचार करने को कहा। इसके साथ ही उच्च न्यायालय से यात्रियों की संख्या बढ़ाने के लिए आवेदन करने के निर्देश दिए।

सचिवालय में अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन ने चार धाम यात्रा से जुड़े सभी विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक में यह बातें कही। इस दौरान कहा कि

राज्य के बाहर से आने वाले यात्रियों को स्मार्ट सिटी एवं देवस्थानम् बोर्ड के पोर्टल पर पंजीकरण कराया जा रहा है। पंजीकरण के लिए अभिलेख एवं शर्तें दोनों पोर्टलों में समान हैं। यात्रियों की सुविधा के दृष्टिगत देवस्थानम् बोर्ड के ई-पास होल्डर को स्मार्ट सिटी के पोर्टल पर पंजीकरण की बाध्यता को एसओपी हटाने पर विचार करने को कहा।

देवस्थानम् बोर्ड की वेबसाईट,पोर्टल खालने में उत्पन्न हो रही समस्याओं का तत्काल निराकरण किया जाए। धामों के चैक प्वाइंट पर ई-पास की चैकिंग के लिए क्यूआर कोड की व्यवस्था की जाए।

अपर मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि देवस्थानम् बोर्ड के पोर्टल पर यात्रियों के पंजीकरण के लिए एक फोन नंबर, एक बुकिंग, एक आधार नंबर की व्यवस्था की जाए। चारों धामों में समस्त प्रोटोकॉल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चत करते हुये मन्दिर खुलने के निर्धारित समय के अन्तर्गत धाम एवं मन्दिर परिसर की वास्तविक क्षमता का आंकलन वीडियोग्राफी सहित शासन को उपलब्ध कराने कहा। उच्च न्यायालय में अंतरिम एप्लीकेशन दायर करते हुए तत्काल यात्रियों की प्रतिदिन दर्शन की अनुमन्य संख्या को बढ़ाने के लिए अनुरोध किया जाए।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि ई-पास को निर्गत किये जाने एवं ई-पास की चैकिंग व्यवस्था को अत्यन्त सरलीकृत किया जाय, जिससे कि तीर्थ यात्रियों को ई-पास हेतु पंजीकरण कराने में किसी तरह की असुविधा न हो।

बैठक में बताया गया कि निर्धारित यात्रियों के सापेक्ष पूर्व से पंजीकृत यात्रियों में से अपेक्षाकृत कम यात्री चार धामों में दर्शन आ रहे हैं, इस स्थिति में सम्बंधित जिलाधिकारियों की ओर से उक्त यात्रियों के स्थान पर अन्य पंजीकृत यात्रियों को दर्शन की अनुमति दे सकते हैं।

चारधाम देवस्थानम बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, रविनाथ रमन ने बताया कि चार धाम यात्रा के लिए पंजीकरण एवं ई-पास देवस्थानम् बोर्ड की वेबसाइट से निर्गत किए जा रहे हैं। वेबसाइट पर चार धाम यात्रा के लिए यात्रियों की ओर से पंजीकरण करा लिया गया। चारों धाम में पूजा प्रातः 4 बजे से सायं 7 बजे तक संचालित की जा रही है।