अब तक चमोली में छठवीं बार हो चुकी है बादल फटने की घटना 

0
17
Cloud Burt
मौसम की मार झेल रहे चमोली के लोग
चमोली में आसमानी आफत थमने का नाम नहीं ले रही है। आए दिन यहां बादल फटने की घटनाएं घटित हो रही है। इस मानसून सत्र की ही बात करें तो अब तक यहां अलग-अलग क्षेत्रों में बादल फटने की छठवीं घटना है।
रविवार रात करीब दो बजे घाट ब्लाक के धुर्मा गांव के ऊपर बादल फटने की छठवीं घटना घटी। इस घटना में एक आवासीय मकान पूर्ण क्षतिग्रस्त तथा तीन आवासीय भवन तीक्ष्ण क्षतिग्रस्त हुए हैं। अतिवृष्टि के कारण सेरा गांव में भी एक आवासीय भवन पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हुआ है। धुर्मा में एक दुकान का खोखा व एक घराट बह गया। राजकीय इंटर काॅलेज मोख स्कूल की दीवार क्षतिग्रस्त हुई है। स्कूल फील्ड में मलबा भरा है। खिकणपाना गेदेरे में पैदल पुलिया तथा मत्स्य तालाब बह गए हैं। भूस्खलन के कारण पेयजल लाइन, सिंचाई गूल, पैदल मार्ग क्षतिग्रस्त हुए हैं। जगह-जगह पुस्ता ढहने से कई मकानों को भी खतरा बना हुआ है।
 खेतों में भी मलबा पटने से फसलों खासा नुकसान हुआ है। गनीमत रही कि इस घटना में कोई जनहानि व पशुहानि नही हुई है। बादल फटने की सूचना मिलते ही राजस्व टीम व स्थानीय पुलिस की टीम ने घटना स्थल पर पहुंचकर प्रभावित परिवारों को राहत दी। प्रभावितों को तत्कालिक सहायता के तौर पर रसद के साथ ही जरूरत का सामान भी वितरित किया जा रहा है। राजस्व टीम प्रभावित क्षेत्रों में क्षतिग्रस्त परिसंपत्तियों का आकलन भी किया जा रहा है। आए दिन बादल फटने की घटनाओं के दृष्टिगत जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने नदी, नाले, गदेरे के आसपास बसे लोगों से बरसात के दौरान विशेष सर्तकता बरतने एवं सुरक्षित स्थानों पर ही रहने की अपील की है।
 चमोली पुलिस ने भी आपदाग्रस्त क्षेत्र धुर्मा गांव पहुंचकर प्रभावितों का हालचाल जाना तथा उन्हें हर संभव सहायता देने का भरोसा दिलाया है। पुलिस के अनुसार बादल फटने से क्षेत्र के बलबीर सिंह रावत पुत्र दुलप सिंह रावत, विक्रम सिंह पुत्र बलबीर सिंह, बिजेन्द्र सिंह पुत्र बलबीर सिंह, चतर सिंह पुत्र बलबीर सिंह, महावीर सिंह पुत्र बलवंत सिंह के मकान क्षतिग्रस्त हो गये हैं। जयवीर सिंह पुत्र बलवन्त सिंह का मकान बह गया है। गोविन्द घाट से आगे बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग चार जगहों पर पूरी तरह से वासआउट होने से यात्रा बाधित हुई है। जिसे खोलने में एनएच की मशीन व मजदूर जुटे हुए हैं। लोनिवि भी गोविंदघाट में यात्रियों को हेमकुंड साहिब की यात्रा के लिए पैदल मार्ग बनाने में जुटा है।
लोनिवि जोशीमठ के अधिशासी अभियंता हीरा सिंह नेगी ने बताया कि गोविंदघाट में पैदल रास्ते का निर्माण किया जा रहा है ताकि यात्रियों को आवाजाही में असुविधा न हो। वहीं जेई प्रदीप बिष्ट व बुद्धि राम भट्ट, अनिल राणा, भगत सिंह नेगी यहां पर पैदल मार्ग बनाने में जुटे हुए है। कहा कि शीघ्र ही मार्ग को ठीक कर लिया जाएगा।