जागेश्वर धाम में भी पर्यटकों व श्रद्धालुओं के आने पर 31 मार्च तक प्रतिबंध

0
381

अल्मोड़ा,  विश्वव्यापी संकट बन कर उभरे कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए उठाए जा रहे कदम के तहत जागेश्वर धाम में भी पर्यटकों और श्रद्धालुओं के आने पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया गया है। उप जिलाधिकारी जैंती/ भनोली मोनिका की अध्यक्षता में हुई बैठक में यह निर्णय लिया गया। तय किया गया कि ज्योतिर्लिंग जागेश्वर धाम में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु चलाए गए जागरूकता व जनसंपर्क अभियान के तहत धाम में पर्यटकों और श्रद्धालुओं के आने पर रोक लगाई जाएगी।

आरतोला से ही पुलिस बल की मौजूदगी में लोगों के मंदिर में आने पर रोक रहेगी। इस बैठक में लिये गए सभी निर्णयों को जिला अधिकारी को ​प्रेषित कर दिया गया है। यह प्रतिबंध आगामी 31 मार्च तक जारी रहेगा। जागेश्वर धाम में चिकित्सकीय सहायता हेतु चिकित्सकों की एक टीम नियमित मॉनिटरिंग करती रहेगी। हालांकि धाम की पौराणिक पद्धति के अंतर्गत दैनिक पूजा पाठ नियमित रूप से सुचारू रहेंगे। यह भी निर्णय लिया गया कि जागेश्वर धाम में जबरन प्रवेश करने वाले बाहरी व्यक्तियों पर जिला प्रशासन द्वारा नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जाए। अभियान में उपस्थित समस्त क्षेत्रीय जनता होटल व्यवसाई, दुकानदार, पुजारीगणों, जागेश्वर व्यापार मंडल के प्रतिनिधियों द्वारा संयुक्त रूप से यह भी सुझाव दिया गया कि किसी भी व्यक्ति की धाम में जिला प्रशासन के अग्रिम आदेशों तक ठहरने और भोजन की व्यवस्था नहीं की जाएगी।

प्रभारी चिकित्सा अधिकारी धौलादेवी डा.बीबी जोशी द्वारा सुझाव दिया गया कि धाम में उपस्थित समस्त होटल व्यवसाई व दुकानदारों द्वारा अपने अपने स्तर पर अपने होटलों में संक्रमण से बचाव हेतु आवश्यक सामग्री जैसे मास्क, सैनिटाइजर और साबुन आदि की व्यवस्था करेंगे। यही नहीं दैनिक पूजा कर्म में लगे बारीदार सूचीबद्ध पुजारियों, कर्मचारियों के लिए आवश्यक सामग्री की व्यवस्था जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा कराई जाएगी। हालांकि इन प्राप्त सुझावों को उप जिलाधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को प्रेषित किया गया है।

जिलाधिकारी से प्राप्त अग्रिम आदेशों के क्रम में कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी ।