खिलाड़ियों को पसंद आ रही औली की बेहतरीन ढलान 

0
37
चमोली जिले की विश्व प्रसिद्ध हिमक्रीड़ा स्थली औली में हो रहे नेशनल स्कीइंग एण्ड स्नो बोर्ड प्रतियोगिता में हिस्सा लेने पहुंचे विभिन्न राज्यों के खिलाड़ियों को स्कीइंग स्लोप पसंद आ रही है। खिलाड़ियों का कहना है कि प्रतियोगिताओं के लिहाज से स्की स्लोप बेहतर है लेकिन यहां बेसिक कोर्स के लिये स्लोप की कमी है। इसके लिये सरकार को विशेष रुप से ध्यान देने की जरूरत है।
औली में आयोजित नेशनल स्कीइंग एण्ड स्नो बोर्ड प्रतियोगिता में जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, आईटीबीपी, भारतीय सेना, बिहार, महाराष्ट्र, दिल्ली, कर्नाटक और उत्तराखंड की टीमें प्रतिभाग कर रही हैं। महाराष्ट्र और बिहार की टीमें पहली बार प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही हैं।
जम्मू-कश्मीर की टीम के अमित बाबा, रिद्दा और वद्र्धा का कहना है कि कश्मीर में बड़ी संख्या में स्कीइंग स्लोप हैं लेकिन बजट के अभाव में स्की स्लोप पर सुविधाएं कम हैं, जबकि औली स्लोप पर सुविधाओं का कोई अभाव नहीं है। यहां महज नये स्की खिलाड़ियों के प्रशिक्षण के कम ढलान वाले स्लोप की जरूरत है।
हिमाचल प्रदेश के खिलाड़ी लक्ष्य, गौरव और दीपा शाह का कहना है कि औली में स्की स्लोप राष्ट्रीय और अन्तरराष्ट्रीय स्पर्धाओं के लिये बेहतर है। यहां सुविधाएं भी हैं। ऐसे में राज्य सरकार को स्लोप के प्रचार-प्रसार के साथ छोटे प्रशिक्षण के लिये स्लोप भी विकसित करने चाहिए।
उत्तराखंड स्कीइंग एसोसिएशन सचिव प्रवीन शर्मा ने बताया कि औली स्लोप को राष्ट्रीय स्तर पर फिस की ओर 10 वर्षों के लिये अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं के आयोजन की मान्यता मिली है। अब औली में अन्तरराष्ट्रीय स्तर की स्पर्धाओं के आयोजन के लिये दावेदारी की तैयारी हो रही है। इसके बाद औली को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर साहसिक खेलों के बेहतर जगह के रुप में पहचान मिलेगी।