महिला दरोगा पर पर्यटक से अभद्रता, जबरन जेल भेजने, कॅरियर खराब करने का लगा आरोप

0
73
सोनप्रयाग
Representative

बरेली के एक पर्यटक के साथ नैनीताल की महिला दरोगा द्वारा अभद्रता करने के साथ ही बेवजह जेल भेजने और उसका कॅरियर खराब करने का आरोप लगा है। घटना के करीब चार माह बाद इसका वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया ट्विटर पर यूजर महिला दरोगा को खूब कोसने के साथ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।

ट्विटर यूजर उत्कर्ष सिंह की ओर से दो दिन पहले नैनीताल की महिला दरोगा द्वारा अभद्रता करने व बेवजह जेल भेजने का उल्लेख करते हुए वीडियो पोस्ट किया था। उन्होंने मुख्यमंत्री पुष्कर धामी, जिलाधिकारी व एसएसपी नैनीताल, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज व उत्तराखण्ड पुलिस को टैग कर यह वीडियो शेयर किया है।

इसके अलावा अन्य प्लेटफार्म पर भी यह वीडियो वायरल किया गया है। वीडियो में महिला दारोगा कार चालक पर्यटक को खींचते हुए दिखाई दे रही है। वीडियो बनाने वाले का मोबाइल छिनने की कोशिश भी नजर आ रही है। वीडियो में नजर आ रहा है कि वीडियो नैनीताल शहर का नहीं बल्कि कैंची धाम क्षेत्र का लग रहा है। महिला दरोगा की तैनाती भी उसी क्षेत्र में थी।

उत्कर्ष सिंह के अनुसार बरेली के इंजीनियर अमित जुलाई में नैनीताल गया था। तभी गाड़ी पार्किंग को लेकर विवाद हुआ, जिसके बाद महिला दरोगा द्वारा अमित का चालान करते हुए थप्पड़ मार दिया। साथ ही वीडियो बनाने पर आईपीसी की धारा 341, 353, 504 के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया। अमित ने उनके पैर तक छुए मगर महिला दरोगा नहीं पसीजी। अगले दिन अमित को अदालत से जमानत तो मिल गई लेकिन उसके यूपीएससी के सपने टूट गए।

सीओ सिटी संदीप नेगी का कहना है कि वीडियो वायरल होने की सूचना मिली है, जिसे दिखवाया जा रहा है।