पर्यटन विभाग में रिक्त पदों पर शीघ्र होगी भर्ती

0
37
पर्यटन

उत्तराखंड पर्यटन विभाग में 51 रिक्त पदों पर शीघ्र ही भर्ती की जाएगी। इसके लिए विभाग की ओर से कवायद शुरू कर दी गई है। आज बोर्ड बैठक में विभिन्न प्रस्तावों को मंजूरी दी गई। इसके साथ ही पीपीपी मोड़ पर राज्य में संचालित परिसम्पतियों के संचालकों की शुल्क माफ करने पर विचार किया गया।

सोमवार को उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी), गढ़ी कैंट स्थित आईएचएम के सभागार में हुई 21वीं बोर्ड बैठक में विभिन्न प्रस्तावों पर मंजूरी दी गई। बीते साल देश-दुनिया में फैले कोरोना के दौरान लॉकडाउन में हुए नुकसान को देखते हुए माह मार्च 2020 से 30 जून 2021 तक पीपीपी मोड़ पर राज्य में संचालित की जा रही विभिन्न परिसम्पतियों के संचालकों की ओर से निर्धारित शुल्क को माफ करने पर भी विस्तार से चर्चा की गई। इसके साथ ही यूटीडीबी में 51 रिक्त पदों को भरने के लिए जल्द भर्ती प्रक्रिया भी शुरू की जाएगी।

उत्तराखंड में पर्यटकों की संख्या की होगी दोगुना दोगुना

बोर्ड बैठक के बाद पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने पत्रकारों को बताया कि आगामी समय में उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों की संख्या को दोगुना करने के लिए उत्तराखंड पर्यटन विभाग प्रतिबद्ध है। इसको ध्यान में रखते हुए विभाग इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) जैसे प्रमुख ट्रेवल इवेंट्स में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेता है। जबकि धार्मिक पर्यटन के साथ शीतकालीन पर्यटन और साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखण्ड पर्यटन की ओर से जिला प्रशासन के साथ मिलकर नैनीताल,भीमताल,पंगोट,मसूरी समेत कई स्थानों पर विंटर कार्निवाल आयोजित किए जाने हैं।

उत्तराखंड जल क्रीड़ा पॉलिसी की जा रही तैयार

महाराज ने बताया कि राज्य में साहसिक पर्यटन की गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए पूर्व में विज्ञापित राफ्टिंग एवं पैरामोटर नियमावली के अतिरिक्त उत्तराखंड जल क्रीडा पॉलिसी, ट्रेकिंग रूल्स, पैरामोटर रूल्स तैयार किए जा रहे हैं। उत्तराखंड राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने और स्थानीय स्तर पर स्वरोजगार उपलब्ध कराने के सोच के लिए उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से पर्यटन कैरवान या मोटर हाउस की पहचान दिलाने के लिए कैरवानिंग नीति तैयार की गई है। जिसके अन्तर्गत राज्य में आने वाले पर्यटकों के लिए कैरवानिंग वाहन पार्किंग के लिए राज्य में विभिन्न स्थानों पर सुविधाएं विकसित की जाएगी।

बोर्ड निणर्य से राज्य पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने 21 वीं बोर्ड बैठक के बाद कहा कि पर्यटन मंत्री की ओर से दिए गए निर्देशों पर गहनता से पालन किया जाएगा। बोर्ड बैठक में लिए गए निर्णयों से उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। इस मौके पर 20 वीं बोर्ड बैठक में लिए गए फैसलों की भी समीक्षा की गई।

बैठक में अपर सचिव पर्यटन युगल किशोर पंत,नरेन्द्र भण्डारी एमडी केएमवीएन,नेहा वर्मा अपर सचिव वन एवं पर्यावरण,अतर सिंह अपर सचिव पीडब्लूडी,अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी (साहसिक पर्यटन) कर्नल अश्विनी पुंडीर,प्रकाश जोशी उप सचिव ऊर्जा,दीप्ति मिश्रा,उपसचिव वित (प्रतिनियुक्ति),निदेशक वित्त जगत सिंह चौहान,निदेशक अवस्थापना ले.कर्नल दीपक खंडूरी,अपर निदेशक पूनम चंद,अपर निदेशक विवेक सिंह चौहान,उपनिदेशक योगेंद्र कुमार गंगवार,वरिष्ठ शोध अधिकारी सुरेंद्र सिंह सामन्त,बसंत सिंह बिष्ट (ऑनलाईन) गैर सरकारी सदस्य,उत्तरा बंसल गैर सरकारी सदस्य,मेजर योगेन्द्र यादव सदस्य,मीरा रतूड़ी गैर सरकारी सदस्य,शरद श्रीवास्तव अधीक्षण अभियंता,विपिन चौधरी समीक्षा अधिकारी स्किल समेत विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।