कोरोना पॉजिटिव प्रवासी युवक आया दिल्ली से बताया देहरादून, केस दर्ज

0
94
उत्तराखंड
FILE
उत्तरकाशी, मुख्यालय के निकट मातली का एक युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया। युवक ने अपनी हिस्ट्री छुपाई, जिसके विरुद्ध राजस्व उप निरीक्षक मातली ने तथ्य छुपाने एवं भ्रामक सूचना देने व संक्रमण कर लोगों की जान खतरे में डालने के आरोप में विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है। युवक के साक्ष्य छुपाने के कारण गांव में गुरुवार को पास के क्षेत्र में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया, जिसके चलते युवक के गांव के एक तोक को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है।
डीएम डा. आशीष चौहान ने बताया कि मातली गांव का यह प्रवासी 16 जून को देर रात कश्मीरी गेट, दिल्ली से देहरादून पहुंचा। जहां उसने अपने भाई को लेने के लिए देहरादून बुलाया और 17 जून की शाम को उत्तरकाशी पहुंचा। स्वास्थ्य परीक्षण के बाद चिकित्सकों ने उसे गृह एकांतवास कर दिया। इसी बीच 20 जून को युवक की तबियत बिगड़ गई। उसे खांसी जुकाम की शिकायत हुई। परिजनों ने वॉर रूम उत्तरकाशी को सूचना दी। उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम उसे अस्पताल ले आई। जहां युवक की सैंपल लिया गया और जांच के लिए भेज दिया। उसे एहतियात के तौर पर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। बुधवार को युवक की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। इसके बाद उक्त व्यक्ति से उसकी ट्रैवल हिस्ट्री पूछी गई तो उसने देहरादून से आना बताया जबकि वह दिल्ली से आया है।
जिलाधिकारी ने बताया कि उक्त व्यक्ति के खिलाफ राजस्व उप निरीक्षक मातली की ओर से आपदा प्रबंधन एक्ट सहित सीआरपीसी की विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है। युवक के संपंर्क में आये व्यक्तियों की हिस्ट्री खंगाल कर उन्हे आइसोलेटे किया जा रहा रहा है। युवक के गांव से संक्रमण न फैले, इसलिए  मातली के गिठिया तोक में भी पूरी तरह से आवाजाही प्रतिबंधित कर कंटेनमेंट जोन बना दिया गया है।