उत्तराखंड का शीतकालीन सत्र हंगामे के साथ शुरू

0
18
देहरादून, उत्तराखण्ड राज्य की चतुर्थ विधानसभा की तृतीय शीतकालीन सत्र बुधवार वंदे मातरम गान के साथ शुरू हुआ । इस दौरान सदन में विपक्ष महंगाई को लेकर वेल में आकर विरोध जताया। स्पीकर के आश्वासन पर विपक्ष  अपने सीट पर गए। फिर प्रश्न काल शुरू हुवा।
सदन की शुरुआत में स्पीकर प्रेमचंद अग्रवाल ने भाजपा से निष्कासित विधायक कुंवर पर्णव सिंह चैंपियन की बैठने की व्यवस्था भाजपा से अलग करने की जानकारी दी।
सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष के नेता इंदिरा हृदेश, प्रीतम सिंह,राजकुमार सहित अन्य विधायकों ने  हाथ में तख्तियां और गैस सिलेंडर का पोस्टर लेकर महंगाई सहित अन्य जनहित मांगों को लेकर वेल में आकर सरकार को घेरने की कोशिश की। स्पीकर ने विपक्ष से जनता के मुद्दे पर प्रश्नकाल चलाने में सहयोग मांगा जिस पर वे राजी हो गए। सदन की  विधानसभा सत्र के दौरान विधायी एवं संसदीय कार्यों की जिम्मेदारी शहरी विकास एवं आवास मंत्री मदन कौशिक देख रहे हैं। सदन में नए सदस्य चंद्रा पंत का मेज थपथपा कर स्वागत किया।
प्रश्न काल की शुरुआत विधायक विनोद कंडारी से हुई फिऱ प्रीतम सिंह व अन्य ने प्रश्न पूछे। सत्र में सदन के नेता व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सदन विधानसभा में लगभग साढ़े दस बजे ही पहुंच गए थे। सत्र से पहले सदन में पहुंचकर विपक्ष के नेताओं से मिलते हुए फिर अपने सीट पर बैठे।
नेता विपक्ष इंद्रा हृदेश, कांग्रेस के प्रीतम सिंह, मंत्री सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, अरविंद पांडेय,पूर्व विधान सभा  अधयक्ष व विधायक गोविंद सिंह कुंजवाल आदि मौजूद रहे।