हरिद्वार के अलकनंदा अतिथि गृह से उप्र सरकार ने दावा छोड़ा, सभी विवाद जल्द सुलझा लेंगेः योगी

0
78
योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां कहा कि राज्य विभाजन के बाद उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के बीच सम्पत्तियों को लेकर जो विवादास्पद मामले थे, उनमें से ज्यादातर का निपटारा हो गया है। कुछ इक्का दुक्का मामले अब भी हैं, जिन्हें दोनों सरकारें मिल बैठकर जल्द ही सुलझा लेंगी।

– हरिद्वार में उप्र सरकार का नया अतिथि गृह कुम्भ मेला से पहले बनकर हो जाएगा तैयार

– बदरीनाथ में भी उप्र सरकार बनाएगी अतिथि गृह, योगी करेंगे शिलान्यास

केदारनाथ पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने यहां मीडिया के साथ अनौपचारिक बातचीत में कहा कि उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के बीच लगभग सारी संपत्तियों के बंटवारे के विवादास्पद मामलों का समाधान हो चुका है। हरिद्वार में उत्तर प्रदेश के अलकनंदा अतिथि गृह का मामला सुप्रीम कोर्ट में था। उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकार उसको लेकर आपस में लड़ रही थीं लेकिन दोनों सरकारों ने तय किया कि अलकनंदा अतिथि गृह उत्तराखंड सरकार को देंगे और उसके बगल में उत्तर प्रदेश सरकार एक अतिथिगृह बनाया जाएगा, जो लगभग बनकर तैयार हो गया है। अगले महीने तक यह पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएगा तथा कुंभ से पहले इसका उद्घाटन कर दिया जाएगा।

उप्र के मुख्यमंत्री ने बताया कि इसके अलावा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बदरीनाथ में भी श्रद्धालुओं के लिए एक अतिथि गृह बनाया जाएगा। आज उस का शिलान्यास करने का कार्यक्रम तय है। उन्होंने स्पष्ट किया कि पहले से जो भी समस्याएं थीं, सामान्य तौर पर सब का समाधान हो चुका है। इक्का-दुक्का जो भी समस्याएं होंगी, दोनों सरकारें मिल बैठकर उसका निपटारा कर लेंगी।

गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ को आज केदारनाथ से उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के साथ बदरीनाथ जाना था, जहां उन्हें दर्शन करने के बाद उत्तर प्रदेश के नए अतिथि गृह का शिलान्यास करने का कार्यक्रम तय था लेकिन मौसम खराब होने के कारण केदारनाथ से हेलीकॉप्टर पूर्व निर्धारित समय से उड़ान नहीं भर पा रहा था। केदारनाथ और बदरीनाथ, दोनों स्थानों पर बर्फबारी हो रही है और मौसम बहुत खराब है, जिसके कारण दृश्यता बहुत घट गई थी। इसके बावजूद दोनों मुख्यमंत्री मौसम थोड़ा अनुकूल होते ही हेलीकॉप्टर से बदरीनाथ के लिए रवाना हो गए।