उत्तराखंड पुलिस ने दो राज्यों के 14 साइबर ठग दबोचे

0
183
आइपीएल
पुलिस महानिदेकशक अशोक कुमार की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर पैसे मांगने के मामले में स्पेशल टास्क फोर्स ने 14 साइबर ठगों को झारखंड और राजस्थान से गिरफ्तार कर बड़ी कामयाबी हासिल की है।
रविवार को पुलिस प्रवक्ता और डीआईजी एसटीएफ नीलेश आनंद भरने ने पत्रकारों को यह जानकारी दी।  उन्होंने बताया कि कुछ दिन पहले  डीजीपी की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आढ़त बाजार निवासी एक व्यक्ति से पैसे की डिमांड की गई थी। शक होने पर उसने नगर कोतवाली में तहरीर दी। कोतवाली में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।
पुलिस मुख्यालय ने मामला गंभीर होने के चलते जांच के लिए स्पेशल टास्क फोर्स और जनपद पुलिस की उच्च स्तर पर संयुक्त  छह टीमें बनाई थीं। टीम की ओर से जांच में पाया गया कि इस प्रकार के अपराध मेवात क्षेत्र, पलवल व नूह (हरियाणा) एवं भरतपुर व अलवर (राजस्थान) एवं जामतारा (झारखण्ड) क्षेत्र से संचालित किए जा रहे हैं। यह टीमें मेवात,पलवल, नूह (हरियाणा) एंव राजस्थान के भरतपुर और अलवर और जमातारा (झारखंड), पश्चिम बंगाल और छत्तीसगढ़ पहुंचीं।
डीआईजी ने बताया कि दो आरोपितों जाहिद पुत्र शेर मोहम्मद निवासी थाना खोह जिला भरतपुर और इरशाद पुत्र मजीद निवासी कलतरिया थाना जुरहेरा जिला भरतपुर (राजस्थान) को गिरफ्तार किया गया। बाकी सभी आरोपित प्रदेश के अलग-अलग जिलों में दर्ज हुए मामलों से संबंधित हैं। उत्तराखंड पुलिस ने प्रदेश के लोगों से साइबर ठगों के  झांसे में नहीं आने की अपील की है। ऐसे ठगों को धरपकड़ के लिए पुलिस का अभियान जारी है।