नोएडा से उत्तराखंड आए युवक की एकांतवास केंद्र में मौत

0
265
शव
(पौड़ी) उत्तराखंड के पौड़ी जनपद के बीरोंखाल ब्लाक अंतर्गत बिरगणा गांव निवासी एक प्रवासी की मौत हो गई। प्रवासी नोएडा से रविवार को यहां पहुंचा था और उसे गांव के पंचायत भवन में एकांतवास में रखा गया था। डाक्टरों ने प्रथमदृष्टया मौत का कारण अस्थमा बताया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए कोटद्वार भेजा गया है। इससे पूर्व रिखणीखाल ब्लाक में भी एक वृद्धा की एकांतवास में मौत हो गई थी।
– नोएडा से रविवार को आए युवक को पंचायत भवन में किया गया था एकांतवास
बीरोंखाल ब्लाक के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. शैलेंद्र सिंह रावत ने बताया है कि नोएडा से रविवार की दोपहर बिरगणा निवासी संजय (35 साल) वाहन बुक कर यहां पहुंचा था। कोरोना के मद्देनजर उसे गांव के पंचायत भवन में क्वारंटाइन किया गया था। रविवार की रात में उसकी तबियत खराब हुई तो उसे एंबुलेंस के माध्यम से अस्पताल लाया जा रहा था लेकिन युवक ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। जानकारी जुटाने पर पता चला है कि युवक अस्थमा का मरीज था। मेडिकल रिपोर्ट के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए कोटद्वार भेज दिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पूरी स्थिति साफ हो सकेगी।
इससे पहले रविवार को रिखणीखाल तहसील के रेवा गांव में भी संस्थागत एकांतवास केंद्र में रह रही 70 वर्षीय एक वृद्धा की मौत हो गई थी। वृद्धा कुछ दिन पूर्व ही अपने परिवार के साथ दिल्ली से गांव लौटी थी और गांव में ही जूनियर हाई स्कूल में संस्थागत एकांतवास सेंटर में रह रही थी ।