यूकेएसएसएससी पेपर लीक में सीबीआई जांच का विरोध नहीं : त्रिवेन्द्र

0
26
त्रिवेंद्र

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने यूकेएसएसएससी पेपर लीक और बैकडोर भर्तियों को गलत बताते हुए कहा कि सीबीआई जांच का विरोध नहीं है। इस मामले में एसटीएफ अच्छा काम कर रही है।

गुरुवार को डिफेंस कालोनी स्थित आवास पर पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पत्रकारों से बातचीत में सीमांत दर्शन यात्रा टू और अपने दो दिवसीय दिल्ली प्रवास की जानकारी दी। इस दौरान बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष से उनकी मुलाक़ात हुई। इस मौके पर राज्य के विभिन्न विषयों और पार्टी संगठन की भी चर्चा हुई।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बैकडोर भर्तियों पर कहा कि ये आपराधिक कृत्य भी है लेकिन सरकार ने जिस तरह से कदम उठाया और एसटीएफ ने कार्रवाई की इससे लोगों का विश्वास बना है। उन्होंने कहा कि सीबीआई जांच का कोई विरोध नहीं है। इस मामले में एसटीएफ जांच प्रशंसनीय है। एसटीएफ को और मजबूत करना चाहिए।

त्रिवेन्द्र सिंह ने गैरसैंण पर कहा कि यह दूरस्थ और पहाड़ का प्रतीक है। सरकार को सत्र चलाने के लिए कैलेंडर बनाना चाहिए। चार धाम यात्रा के दौरान स्थिति कुछ अलग थी लेकिन इसकी तैयारी पहले से करनी होगी। उन्होंने बताया कि 2021 में मैंने सीमांत दर्शन एक यात्रा प्रारंभ किया किया था और अब सीमांत दर्शन-2 किया था। इस यात्रा से पार्टी को पूरा लाभ मिलेगा। अब आने वाले वक्त में सीमांत दर्शन-3 यात्रा भी होगी।

उन्होंने कहा कि पर्यटन क्षेत्र विकसित करने के लिए पहाड़ों का दौरा कर रहा हूं। ऐसे दौरों से राजनीतिक फायदा भी होता है। बॉर्डर एरिया में ड्यूटी कर रही फोर्सेज की हौसला को बढ़ाना है। जवान भी चाहते हैं लोग यहां यात्रा आएं।

उन्होंने कहा कि चीड़ हमारे विकास का बहुत बड़ा आयाम है। हजारों लोगों को हम पिरूल की पत्तियों से रोजगार दे सकते हैं। उत्तराखंड आरएसएस पदाधिकारियों में बदलाव के सवाल पर कहा कि ये आरएसएस का आंतरिक मामला है।