केदारनाथ धाम में बनेगा लॉकर रूम

0
115
रुद्रप्रयाग
FILE

केदारनाथ धाम में यात्रियों के समान को रखने के लिए लॉकर रूम बनाने की दिशा में शीघ्र पहल होगी । मंदिर समिति लगातार गर्भगृह के वीडियो वायरल होने के कारण सुरक्षा के लिए इस तरह का निर्णय ले रही है।

केदारनाथ यात्रा में कमी आने पर बदरी-केदार मंदिर समिति की ओर से गर्भगृह के दर्शन भी शुरू करवाए गए हैं, लेकिन कुछ तीर्थयात्री इसका गलत फायदा उठा रहे हैं। तीर्थयात्री गर्भगृह के वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं, जिससे मंदिर की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। ऐसे में मंदिर समिति की ओर से मुख्य सचिव को पत्र भेजकर केदारनाथ मंदिर से कुछ दूरी पर लाॅकर रूम बनाये जाने का सुझाव दिया गया है, जिससे तीर्थयात्री अपना मोबाइल व अन्य सामान को लाॅकर रूम में सुरक्षित रख सकें, और मंदिर के भीतर सिर्फ पूजा सामग्री लेकर जाएं।

केदारनाथ कपाट खुलने के बाद धाम में यात्रियों की भीड़ अधिक होने के कारण बदरी-केदार मंदिर समिति की ओर से भक्तों को मंदिर के गर्भ गृह के दर्शन नहीं कराये जा रहे थे, लेकिन भीड़ कम होने के बाद गर्भ गृह में भक्तों को जाने दिया जा रहा है, मगर कई भक्त इसका गलत फायदा उठा रहे हैं और मंदिर के गर्भ गृह का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं। ऐसे में बदरी-केदार मंदिर समिति की ओर से भी मुख्य सचिव को पत्र लिखकर मंदिर से कुछ दूरी पर लाॅकर रूम बनाये जाने का सुझाव दिया गया है, जिससे तीर्थयात्री अपना मोबाइल और इलक्ट्रॉनिक सामान को लाॅकर रूम में रख सके और मंदिर के भीतर सिर्फ पूजा सामग्री को लेकर जाए।

मंदिर समिति अध्यक्ष अजेन्द्र अजय ने कहा कि केदारनाथ यात्रा में श्रद्धालुओं की कमी को देखते हुए गर्भगृह के दर्शन करवाये जा रहे हैं, लेकिन कुछ तीर्थयात्री इसका गलत फायदा उठा रहे हैं, जिस कारण प्रदेश के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर सुझाव दिया गया है कि केदारनाथ मंदिर से कुछ दूरी पर लाॅकर रूम स्थापित किया जाए।

गौरतलब है कि विश्व विख्यात केदारनाथ मंदिर के गर्भ गृह में विराजमान बाबा केदार के स्वयं भू लिंग का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। मंदिर समिति की ओर से विगत एक जुलाई से मंदिर के गर्भ गृह में जाने की अनुमति भक्तों को मिली है और अनुमति मिलते ही भक्त बाबा केदार के स्वयंभू लिंग का वीडियो वायरल करने लगे हैं। जबकि मंदिर के मुख्य द्वार में साफ शब्दों में लिखा है कि गर्भगृह की फोटो खींचना वर्जित है। इसके बावजूद कुछ श्रद्धालुओं ने गर्भगृह में पूजा-अर्चना की वीडियो बनाकर वायरल कर दी। मामला सोशल मीडिया में उठने के बाद लोगों ने केदारनाथ मंदिर की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाने शुरू कर दिए।