अब तक की सबसे बड़ी चरस की खेप के साथ पकड़े गये तस्कर

0
507
तस्कर
चरस की खेप के साथ पकड़े गये तस्कर

राज्य स्थापना के बाद से अबतक की सबसे बड़ी चरस की खेप के साथ पुलिस ने अंतर्राष्ट्रीय गिरोह के दो लोगों को गिरफ़्तार किया है।

स्पेशल टास्क फोर्स, उत्तराखण्ड को मुखबिरों से जानकारी मिली कि नेपाल से भारी मात्रा में चरस को बहराईच, उ0प्र0 से उत्तराखण्ड एवं सहारनपुर में सप्लाई किया जाना है। सूचना मिलने का साथ ही एसटीएफ़ की टीम बनाई गई जिसने मिली सूचना पर कामों करना शुरू कर किया।

सूचना के आधार पर रविवार को एसटीएफ टीम ने हरिद्वार रोड़, देहरादून में संदिग्ध वाहन यू0पी0 40 यू 8503 को रोककर उसकी तलाशी की। तलाशी के दौरान पाया गया कि अभियुक्तों ने उक्त बुलेरों की असली टंकी के साथ अन्य डुप्लीकेट टंकी को भी फिट कर रखा था। वाहन में डीजल की सप्लाई डुप्लीकेट टंकी से की गई थी तथा असली टंकी में भारी मात्रा में चरस छिपा कर रखी गई है। मौके से राम भुल्लन और पृथ्वी राज को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्तों के कब्जे से 50 किलो0 चरस बरामद की गई। उक्त बरामद चरस की अन्तर्राष्ट्रीय बाजार मे कीमत लगभग 2.5 करोड़ (दो करोड़ पचास लाख रुपये) रुपये है।
पूछताछ पर अभियुक्त राम भुल्लन निवासी उपरोक्त द्वारा बताया गया कि वह लल्ली देवी प्राथमिक विद्यालय, केसरगंज बहराईच में अध्यापक के पद पर कार्यरत है। उसे उक्त बरामद चरस को नेपाल से लाकर उत्तराखण्ड एवं सहारनपुर, उ0प्र0 में सप्लाई किया जाना था। चरस की सप्लाई में लिप्त अन्य व्यक्तियों के सम्बन्ध में जानकारी एकत्रित की जा रही है।

उत्तराखण्ड राज्य की स्थापना से लेकर पहली बार राज्य में एस0टी0एफ0 के द्वारा इनती बड़ी मात्रा में चरस खेप बरामद की गई है।
राज्य में नशे के कारोबारी तेज़ी से पैर पसार रहे है और इस लिये राज्यों पुलिस समय रहते इन पर लगाम लगाने के लिये कमर कसे हुए है।