उत्तराखंड एसटीएफ ने इनामी लुटेरे को दिल्ली से पकड़ा, तीन राज्यों की पुलिस लगी थी पीछे

0
69
एसटीएफ

उत्तराखंड एसटीएफ ने अंतरराज्यीय कुख्यात इनामी लुटेरे को आखिरकार रविवार को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। इसके पीछे तीन राज्यों- उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली पुलिस लगी थी। लुटेरे ने इन राज्यों में 37 लूट की घटना की थी। पुलिस से बचने के लिए लुटेरा दिल्ली में छिपकर रह रहा था। लुटेरा उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला है। इस पर लूट, चोरी व हत्या के प्रयास के 38 मुकदमे दर्ज हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश एवं दिल्ली में दर्जनों लूट की घटना करने वाले एक कुख्यात इनामी की गिरफ्तारी के लिए गत एक वर्ष से उत्तर प्रदेश एवं उत्तराखंड पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही थी परंतु उत्तराखंड एसटीएफ ने आखिरकार इनामी को गिरफ्तार कर ही लिया। गत एक सप्ताह पहले उत्तराखंड एसटीएफ को इस लुटेरे के संबंध में जानकारी मिली कि यह अपराधी वर्तमान में दिल्ली बाबूनगर मुस्तफाबाद दिल्ली थाना तरवाल नगर क्षेत्र में छिपकर रह रहा है। दिल्ली पहुंची एसटीएफ टीम ने इनामी को गिरफ्तार कर लिया। इस अपराधी की गिरफ्तारी के लिए जनपद उधम सिंह नगर उत्तराखंड एवं जनपद मुरादाबाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने 25-25 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की थी। 50 हजार रुपये इनामी अपराधी के विरुद्ध दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से करीब 38 लूट, चोरी व हत्या के प्रयास के मुकदमें पंजीकृत हैं। यह अभियुक्त लूट और गैंगस्टर जैसे कई जघन्य अपराधों में फरार चल रहा था।

गिरफ्तार शातिर सगीर पुत्र यासीन थाना टांडा जनपद रामपुर उत्तर प्रदेश का निवासी है। इस पर जनपद उधम सिंह नगर में एक, उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद व जनपद रामपुर के विभिन्न थानों में 30 एवं दिल्ली में सात कुल 38 अभियोग पंजीकृत हैं। अभियुक्त अपने साथियों के साथ मिलकर 11 मार्च 2023 को बाजपुर निवासी शेर मोहम्मद की मोटर साइकिल रोक डरा-धमका कर उससे 50,000 रूपये व मोबाइल, पर्स दिन दहाड़े लूट फरार हो गया था। इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उधम सिंह नगर ने 25000 के इनाम की घोषणा की थी। इसी प्रकार 27 मार्च 2023 को मुरादाबाद मे लकड़ी ठेकेदार अख्तर हुसैन पुत्र एबेज निवासी कुंदरकी मुरादाबाद को अपने घर आते समय दिन मे दो बदमाशों द्वारा उसकी मोटर साइकिल को जबरन रोककर डरा धमका कर 1,70000 रूपये लूट लिए थे। इस संबंध में मुरादाबाद पुलिस ने भी 25000 का इनाम घोषित किया था।