रंगबिरंगा मोनाल होगा राष्ट्रीय खेल 2018 का मैस्कॉट

0
843
मोनाल
मोनाल होगा राष्ट्रीय खेल 2018 का मैस्कॉट

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने शुक्रवार को राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम के लोकार्पण के साथ ही राष्ट्रीय खेल के लोगो और मैस्कॉट का भी लोकार्पण किया। राष्ट्रीय खेल के लोगो के रुप में मोनाल को चुना गया है जो उत्तराखंड का राज्य पक्षी है और विलुप्त होने के कगार पर है। हरीश रावत ने कहा कि मोनाल को राष्ट्रीय खेल के लोगो की तरह चुनने का मुख्य कारण है कि वह हमारा राज्य पक्षी है और इसके जरिए हम राज्य की पहचान और इसके महत्व को आने वाले पीढ़ी तक पहुंचा सके।
उत्तराखंड में वर्ष 2018 में राष्ट्रीय खेल प्रस्तावित हैं। यह खेल लगभग 15 से 20 दिन तक चलेगा जिसमें पूरे प्रदेश में अलग अलग कार्यक्रम होंगे और जिनमें कुल 36 खेल प्रतिस्पर्धा होंगी। शुरुआत में ग्राउंड लेवल पर राष्ट्रीय स्तर के गेम्स के लिए अनूकुल ग्राउंड बनाने की कोशिश खेल विभाग की ओर से की जा रही है। आने वाले एक वर्ष के भीतर लोकल ग्राउंड को राष्ट्रीय स्तर की सुविधाओं से लैस करने में खेल विभाग के अधिकारी अपनी पूरी ताकत झोंकेने के लिए तैयार हैं।

नेशनल गेम्स
नेशनल गेम्स लोगो

वर्ष 2018 में अक्टूबर या नवंबर माह में ये नेशनल गेम्स होने की संभावना है। हालांकि अभी तक फाइनल डेट तय नहीं हुई है। देहरादून में एथलेटिक्स, बास्केटबाल, वालीबाल, हॉकी सहित कई मुख्य गेम्स होंगे। राष्ट्रीय स्तर के 34 गेम्स में आईएस हॉकी और आईएस स्केटिंग जोड़कर 36 राष्ट्रीय स्तर के खेल राज्य में होने हैं। हालांकि अभी धरातल पर कई कमियां हैं लेकिन वर्ष 2018 से पूर्व इन सभी सुविधाओं को चुस्त-दुरुस्त करने की मुहिम चल रही है।

देहरादून में होने वाले प्रमुख गेम्स के लिए सभी अवस्थापना विकास की सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। खेल निदेशालय, महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कालेज परिसर में एथलेटिक्स, हाईटेक स्टोटर्फ ग्राउंड, फुटबाल के लिए पवेलियन ग्राउंड सहित अन्य कई खेलों के लिए धरातल पर मूलभूत सुविधाएं और विकसित की जा रही हैं।

प्रदेश में कई नए ग्राउंड तैयार किए जा रहे हैं। हरिद्वार में नया ऐस्ट्रो टर्फ़ ग्राउंड बनाया जा रहा है। हरिद्वार सहित देहरादून के हाईटेक ग्राउंड में ऐस्ट्रो टर्फ़ ग्राउंड बनाए जा रहे हैं और भी ग्राउंड विकसित किए जा रहे हैं। आने वाले समय में उम्मीद है कि सभी तैयारियां समय पर पूरी हो सकेंगी ताक़ी राज्य के खिलाडियों को इन पर अब्बास करने का पूरा समय मिल संकेत जिससे उनका प्रदर्शन बेहतर हो सके।