एसपी चमोली ने किया बदरीनाथ यात्रा मार्ग का निरीक्षण

0
175
चार धाम

म यात्रा पर्वतीय राज्य उत्तराखंड का आध्यात्मिक श्रृंगार है। प्रतिवर्ष ही लाखों श्रद्धालु ओर प्रकृति प्रेमी उत्तराखंड की ओर आकर्षित होकर यहां पहुंचते हैं। सभी पर्यटकों की सुरक्षा और सुरक्षित सफल निर्बाध यात्रा उत्तराखंड पुलिस की प्राथमिकताओं में रहता है।

चमोली जिले में श्री बदरीनाथ और सिखों के पवित्र स्थल स्थित है, जिनके कपाट खुलने में कुछ ही माह शेष हैं। इसके लिए पुलिस अधीक्षक चमोली श्वेता चौबे ने सुरक्षित यातायात के पूर्व ढांचागत योजना के मद्देनजर चमोली से श्री बदरीनाथ तक का सफर तय किया और यात्रा रूट की बारीकियों और संवेदनशील स्थानों को चिह्नित कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जनपद में बाजपुर चाड़ा, चमोली चाडा, बिरही बेंड चाड़ा और हेलंग के करीब आकस्मिक आवश्यकता अनुसार वन वे के लिए निर्देशित किया। साथ ही दुर्घटना संभावित क्षेत्र क्षेत्रपाल, पागलनाला, गुलाबकोटी, हेलंग और मारवाड़ी से बदरीनाथ के मध्य आवश्यक साइन बोर्ड लगाने के लिए भी निर्देशित किया।

यात्राकाल में यात्रियों की सुविधा के लिए अस्थायी चौकियां और बूथों का निर्माण भी चमोली की ओर से किया जाता है। इसके लिए बिरही, पीपलकोटी, टगंणी, मारवाड़ी तिराहा, जोशीमठ पेट्रोल पंप, गोविंदघाट, लामबगड़ स्लाइडिंग जोन, बदरीनाथ तिराहा, साकेत तिराहा में स्थान चिह्नित कर अस्थायी चौकी, बूथों और पर्यटक पुलिस चौकी के निर्माण के लिए आवश्यक तैयारियों करने के भी पुलिस अधीक्षक की ओर से संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया। मारवाड़ी से बदरीनाथ यात्रा मार्ग के निरीक्षण के दौरान नेशनल हाइवे निर्माण कार्य को समय से पूरा करने के लिए संबंधित निर्माणाधीन संस्था से पत्राचार करने के लिए भी एसपी की ओर से निर्देशित किया गया।

चारधाम यात्रा के अंतिम चरण श्री बदरीनाथ मार्ग और धाम में लगभग तीन से चार फिट बर्फ जमी हुई है। एसपी ने बदरीनाथ मंदिर परिसर पहुंचकर मंदिर सुरक्षा में लगे पुलिस जवानों से उनका हालचाल पूछा और आवश्यक निर्देश भी दिए।