मौसम की बेरुखी जारी, ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी, निचले स्थानों पर बारिश

0
153
मौसम
चमोली जिले में दोहपर तक बादल और धूप की आंख मिचौली के बाद एक बार फिर मौसम ने करवट बदल ली है। जिले के ऊंचाई वाले इलाकों में गुरुवार को दूसरे दिन भी बर्फबारी हुई। वहीं निचले इलकों में दोपहर के बाद रुकरुक कर बारिश का सिलसिला जारी है। जिले में मंगलवार रात्रि से बदले मौसम के चलते जिले के तापमान में भारी कमी आई है।
चमोली जिले में गुरुवार को सुबह हल्की धूप खिली, लेकिन दोपहर बाद जिले के गोपेश्वर, जोशीमठ, कर्णप्रयाग सहित समूचे जिले में आसमान में छाये बादल बरसने लगे। वहीं बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब सहित ऊंचाई वाले इलाकों में हल्की बर्फवारी हुई। जिससे बदरीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब में यात्रा तैयारियां बाधित हो गई हैं। वहीं बर्फवारी होने धाम सहित समूचे जिले के तापमान में खासी कमी आ गई है। जिले में ठंड बढ़ने के साथ ही जहां एक बार फिर गर्म कपड़ों का उपयोग बढ़ गया है वहीं अधिकतर लोग दोपहर बाद बाजार बंद होने के साथ ही घरों में दुबके हुए हैं।
केदारनाथ में बर्फवारी, बढ़ी ठंड
दो दिनों से लगातार हो रही बारिस के कारण केदारनाथ धाम में 4 फीट बर्फ पड़ गयी है। इसके साथ ही केदारघाटी में ठंड बढ़ गई है। लगातार बढ़ती ठंड के कारण लोगों ने दोबारा गर्म कपड़े निकाल लिए हैं। चोपता, त्रियुगीनारायण, चौमासी आदि स्थानों पर ठंड का प्रकोप बढ़ने से अप्रैल माह में दिसंबर जैसी अनुभूति होने लगी है। अप्रैल माह में इतनी भयकर ठंड 29 वर्ष पूर्व हुई थी। बर्फ गिरने से केदारनाथ धाम की सुंदरता बढ़ गयी है।