उत्तराखंड में जबरदस्त बर्फबारी, पहाड़ो से मैदानों तक ठंड का प्रकोप।

0
89

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी और बारिश से पूरा प्रदेश शीतलहर के प्रकोप में है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुमान के मुताबिक प्रदेश के उंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी जारी है। पहाड़ों में हो रही बर्फबारी और बारिश से पूरा प्रदेश शीतलहर की चपेट में आ गया है, जिससे ठिठुरन बढ़ गई है और तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है।

बाबा केदारनाथ धाम में पिछले दो दिनों से लगातार बर्फबारी हो रही है जिस कारण केदारनाथ धाम में चल रहे सभी पुनर्निर्माण कार्य ठप पड़ गये हैं। साथ ही बर्फबारी से धाम में हाड़कंपा देने वाली ठंड पड़ रही है।शीतकाल के दौरान केदारनाथ धाम में पुनर्निर्माण कार्य किये जा रहे हैं, केदारनाथ धाम में पुलिस के जवानों के अलावा विभिन्न कार्यदायी संस्थाओं के मजदूर रह रहे हैं, लेकिन उन्हें बर्फबारी के बाद ठंड का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार सुबह से ही केदारनाथ में मौसम खराब हो गया था, जिसके बाद मंगलवार शाम केदारनाथ धाम में जमकर बर्फबारी हुई और बर्फबारी का सिलसिला अभी भी जारी है,  जिससे केदारनाथ धाम में दो फीट तक बर्फ जम चुकी है।

बदरीनाथ धाम में कुदरत बद्री विशाल का श्रृंगार बर्फ की फुहार से कर रही हैं। चमोली में इस समय बद्रीनाथ हेमकुंड और में जबरदस्त बर्फबारी हो रही है पिछले दो दिनों से लगातार बद्रीनाथ धाम में अब तक 4 फीट से अधिक बर्फ़बारी हो चुकी है तो अभी बर्फ़बारी का दौर लगातार जारी हे पूरा बद्रीनाथ धाम बर्फ की सफ़ेद चादर से ढक गया हे, ऐसे में बद्रीनाथ धाम का मनमोहक दृश्य बेहद खूब लग रहा ,हे लेकिन दूसरी और वहां पर रहने वालों की मुश्किलें खासी बढ़ गई हैं तो वहीँ आने वाले समय में इससे भी ज्यादा भारी बर्फ़बारी का नजारा धाम में देखने को मिल सकता है।

विश्व प्रसिद्ध पर्यटक स्थल औली में नवंबर माह में ही जमकर बर्फ़बारी हो रही है आलम इस कदर है की औली में अभी तक 4 इंच बर्फबारी हो चुकी है जिसके चलते निचली जगहों पर भले ही तापमान में भारी गिरावट आ गई है, लेकिन बर्फबारी ने स्थानीय लोगों सहित पर्यटकों के चेहरे खिला दिए हैं। पर्यटक जमकर औली में बर्फ़बारी का लुत्फ़ उठा रहे हैं ,तो वहीँ बर्फ़बारी की खबर सुनकर पर्यटक औली की और रुख करने लगे हैं ।

यही हाल उत्तरकाशी और टिहरी जिले का है जहाँ लगातार बारिश के बाद तापमान में भारी गिरावट आयी है जिसके कारण ऊँचाई वाले स्थानों पर जमकर बर्फबारी जारी है।सड़को पर बर्फ गिरने से वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया है तो पर्यटकों के चेहरे खिल उठे हैं साथ ही स्थानीय लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और लोग घरों में दुबकने को मजबूर हो चुके हैं।

पहाड़ों पर हो रही ये बर्फ़बारी तो महज अभी शुरुआत है मौसम विभाग की मानें तो भारी बर्फ़बारी का सिलसला अभी यूँ ही चलता रहेगा जिससे पहाड़ों पर हो रही बर्फ़बारी से मैदानी इलाकों में भी ठण्ड ने जबरदस्त दस्तक दे दी है, कुछ दिन अभी बारिश की सम्भावना कम है पर न्यनतम और अधिकतम तापमान में गिरावट जारी रहेगी साथ ही मैदानी इलाकों में धुन्ध और कोहरा लोगो की परेशानी का सबब बन सकता है।