उत्तराखंड के 1124 स्कूल में तैयार होगी स्मार्ट क्लास

0
192
स्कूल
FILE/REPRESENTATIVE

शिक्षा के डिजिटलाइजेशन को लेकर राज्य सरकार लगातार प्रयासरत है। इसी क्रम में वर्ष 2023-24 तक प्रदेश के 1124 स्कूलों में स्मार्ट क्लासेज तैयार कर बच्चों को हाईब्रिड माध्यम से पढ़ाया जायेगा। इसके साथ ही 200 स्कूलों में नये शैक्षिक सत्र से सात व्यावसायिक पाठ्यक्रम को प्रारंभ किया जाएगा।

मंगलवार को शिक्षा मंत्री डॉ.धन सिंह रावत ने विद्यालयी शिक्षा महानिदेशालय में समग्र शिक्षा की समीक्षा बैठक ली। इस दौरान उन्होंने बताया कि प्रदेश के 1124 स्कूलों में स्मार्ट क्लासेज के माध्यम से पढ़ाई कराई जायेगी, जिसके लिये शीघ्र ही सभी स्कूलों में स्मार्ट क्लासेज तैयार करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये हैं।

उन्होंने बताया कि वर्तमान में प्रदेशभर में चयनित 840 स्कूलों में से 500 विद्यालयों में वुर्चअल क्लासेज चलाई जा रही है, जबकि शेष 340 स्कूलों में भी वर्चुअल क्लासेज शीघ्र ही शुरू कर दी जायेगी। इसी प्रकार वर्ष 2023-24 के अंतर्गत सूबे के कक्षा-01 से कक्षा-12 तक के 1124 विद्यालयों में स्मार्ट क्लासेज स्थापित की जायेगी, जिसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

शिक्षा मंत्री ने बताया कि सूबे के 200 स्कूलों में नये शैक्षिक सत्र से कृषि,ऑटोमोटिव,आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं हार्डवेयर,ब्यूटी एंड वेलनेस, टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी तथा पलम्बर सहित सात व्यावसायिक कोर्स संचालित किये जाएंगे। इससे पूर्व भी 200 विद्यालयों में आठ व्यावसायिक कार्यक्रम संचालित किये जा रहे हैं,जिसमें 18 हजार 300 बच्चों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।

रिक्त पदों को नहीं भरने पर मंत्री ने लगाई फटकार–

मंत्री रावत ने समग्र शिक्षा के अंतर्गत राज्य व जिला स्तर पर लम्बे समय से रिक्त चल रहे विभिन्न श्रेणी के पदों को न भरे जाने पर नाराजगी जताते हुए अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। बीआरपी/सीआरपी के 955 पदों सहित अन्य सभी रिक्त पदों को मार्च 2023 से पूर्व प्रतिनियुक्ति एवं आउटसोर्स के माध्यम से भरने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये।